दिवाली और छठ को लेकर बिहार सरकार का नया फरमान जारी

पटना: दीपावली और छठ महापर्व कि तैयारियों में इस समय पूरा देश लगा हुआ है। इन पर्वों के चलते अन्य राज्यों में रह रहे लोगों का बिहार आना शुरू हो गया है। हालाँकि बिहार सरकार कोरोना को लेकर काफी सतर्क है। हाल ही में बिहार के मुख्यमंत्री ने नया फरमान जारी किया है। इस फरमान को जारी करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, 'बिहार से बाहर रह रहे लोगों को बिहार आने के लिए कोरोना के टीकाकरण का प्रमाण पत्र दिखाना होगा और जिनका टीकाकरण नहीं हुआ है, उनका तुरंत टीकाकरण कराया जाएगा।'

बीते शनिवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिकारियों को यह आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। आप सभी को हम यह भी बता दें कि दिल्ली, मुंबई सहित देश के अन्य राज्यों में रह रहे बिहार के लोग बड़ी संख्या में छठ पर्व मनाने आते हैं। इसी को देखते हुए नीतीश कुमार ने अधिकारियों को बाहर से आने वाले लोगों को कोरोना जांच कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा, 'छठ पर्व में बिहार आ रहे लोग अगर टीकाकरण एवं आरटीपीसीआर जांच करा लिया है तो उसका प्रमाण पत्र साथ रखें।'

अब यहाँ CM के इस निर्देश के बाद स्वास्थ्य विभाग रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड एवं इंटर स्टेट बॉर्डर चेक प्वाइंट पर बाहर से आने वालों पर विशेष नजर रखेगी और इन जगहों पर भी कोरोना जांच की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। CM नीतीश का कहना है जिन लोगों का आधार कार्ड नहीं रहने के कारण वैक्सीनेशन नहीं हो पाया है, उनका किसी दूसरे पहचान पत्र के आधार पर टीकाकरण कराया जाए।

वहीं दूसरी तरफ अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत का कहना है, 'छठ महापर्व के पूर्व कोरोना वैक्सीनेशन अभियान और तेज किया जाएगा और कोरोना जांच की संख्या और बढ़ाई जाएगी। 18, 19 और 20 अक्तूबर को कोरोना वैक्सीन के दूसरे डोज को लेकर डोर-टू-डोर अभियान भी चलाया जाएगा। इस दौरान लोगों को कोरोना वैक्सीन का दूसरा डोज लेने के लिए भी प्रेरित किया जाएगा। बिहार में कोरोना मरीजों की संख्या काफी हद तक कम हो चुकी है।'

वीएसपी संघ अध्यक्ष ने कहा- "उक्कू आंदोलन में भाजपा को छोड़कर सभी राजनीतिक..."

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को जन्मदिन की दी बधाई

विशाखापत्तनम: 'डॉ एपीजे अब्दुल कलाम की जयंती पर किया गया 'प्रेरणा स्थल' का उद्घाटन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -