मंदिर में सो रहे पुजारी की गला काटकर निर्मम हत्या, 3 Km दूर मिला सिर

पटना: बिहार के बेतिया से एक रूह कंपा देने वाली घटना सामने आई है। यहाँ गोपालपुर थाना क्षेत्र के बकुलहर मठ स्थित राम जानकी मंदिर के पुजारी की सिर काटकर हत्या कर दी गई है। पुजारी का कटा हुआ सिर लगभग 3 किलोमीटर दूर स्थित पिपरा काली मंदिर में एक झोले के अंदर रखा हुआ मिला है। हालांकि, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दोनों मंदिर के बीच की दूरी एक Km बताई जा रही है।

इसका पता तब चला, जब बुधवार (10 अगस्त 2022) की सुबह जब लोग काली मंदिर में पूजा करने के लिए पहुंचे, उन्हें मंदिर के द्वार पर ही पुजारी का कटा हुआ सिर नज़र आया, जिससे सब डर गए। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, मृतक की शिनाख्त 55 वर्षीय रुदल प्रसाद वर्णवाल के रूप में हुई है। वे राम जानकी मंदिर में लगभग 40 वर्षों से पूजा-पाठ कर रहे थे। स्थानीय लोग बताते हैं कि पूजा-पाठ के अतिरिक्त उन्हें अन्य किसी से कोई मतलब नहीं रहता था। इस हत्याकांड के बाद से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। स्थानीय लोगों के अनुसार, बकुलहर राम जानकी मंदिर के पुजारी रोज़ाना की तरह मंगलवार (9 अगस्त 2022) की रात मंदिर परिसर में सो रहे थे। लेकिन, सुबह उनका कटा हुआ सिर और शव मिला। वहीं, कातिलों का अब तक सुराग नहीं मिल सका है।

बकुलहर गाँव के ही निवासी अरुण कुमार तिवारी ने बताया है कि बुधवार सुबह जब लोग मठ पहुंचे, तो उन्होंने राम जानकी मंदिर में खून देखा। पुजारी का धड़ वहीं पड़ा हुआ था। इसी बीच खबर मिली कि, पिपरा के काली मंदिर में उनका सिर पड़ा हुआ है। इस घटना के बाद दोनों मंदिरों में लोगों की भारी भीड़ इकठ्ठा हो गई। पुजारी की निर्मम हत्या को लेकर लोगों में काफी आक्रोश हैं। हालांकि, घटना की वजह  अभी स्पष्ट नहीं हो पाई है। चनपटिया थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने बताया कि मामले की छानबीन जारी है। पुलिस ने कटे सिर व धड़ को अपने कब्जे में ले लिया है। जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा।

कलयुगी बेटी ने अपने ही मां-बाप को दी दर्दनाक मौत, वजह जानकर चौंक जाएंगे आप

मादक पदार्थ तस्कर पुलिस की गिरफ्त में

मंदिर के पुजारी की निर्मम हत्या, सिर काटकर काली मां को चढ़ाया

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -