गंगा नदी में अचानक पलटी नाव, 12 से अधिक लोग हुए लापता

पटना: बिहार राज्य के पटना शहर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां गंगा नदी में व्यक्तियों से भरी नाव पलट गई। इस नाव पर कई व्यक्ति सवार थे। दुर्घटना में कई लोग पानी में डूब गए हैं। ये दुर्घटना पटना के मनेर तथा सारण मेहरौली घाट के बाडर पर बीच गंगा नदी में हुआ है। दरअसल नाव पर रखकर व्यक्ति अवैध तौर पर बालू ले जा रहे थे। नाव पर वजन अधिक होने की वजह से दर्जन भर से भी अधिक मजदूरों से भरी नाव का बैलेंस बिगड़ गया तथा वो पानी में डूब गई।

प्राप्त हुई खबर के अनुसार, हादसे की जानकारी प्राप्त होते ही पुलिस प्रशासन में हंगामा मच गया है। प्रशासनिक अफसर गोताखोरों की साथ गंगा के तट पर पहुंचे। कहा जा रहा है कि दर्जनभर से अधिक लोग लापता हैं तथा रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। नाव सारण के डोरीगंज से बालू लादकर कोइलवर की तरफ जा रही थी। इसी के चलते मनेर के गंगा नदी के बीच धार में नाव अचानक ही पानी में डूब गई। कहा जा रहा है नाव पर क्षमता से अधिक भार हो गया था। जिसकी वजह से उसका बैलेंस बिगड़ा गया तथा वो डूब गई।

वहीं इस मामले में मनेर प्रशासन ने ये बोलते हुए पलड़ा झाड़ लिया है कि ये उनके इलाके की दुर्घटना नहीं है। गौरतलब है कि इससे पहले भी मनेर में नाव टकराने से कई व्यक्तियों की मौत हो चुकी है। वर्ष 2020 नवंबर में बिहार के भागलपुर के गोपालपुर इलाके में गंगा नदी में यात्रियों से भरी एक नाव पलट गई थी। इस दुर्घटना में एक महिला की मौत हो गई थी जबकि 10 लोग गुमशुदा हो गए थे। इसके अतिरिक्त नवगछिया के गोपालापुर के तिनटंगा करारी गांव से मजदूर तथा किसान गंगा पार दियारा स्थित अपने खेतों में कार्य के लिए एक नाव पर सवार होकर निकले थे, तभी तीनटंगा घाट से कुछ दूरी पर आगे नाव तेज धारा में डूब गई।

केरल में कोरोना के 10 हजार से अधिक नए मामले आए सामने, 90 लोगों ने गँवाई जान

जल्द शुरू हो सकती है अमरनाथ यात्रा, जम्मू कश्मीर के LG मनोज सिन्हा ने दिए संकेत

DPIIT सचिव गुरुप्रसाद महापात्र का कोरोना के कारण हुआ निधन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -