लालू यादव के इलाज का पूरा खर्च बिहार सरकार उठाएगी.., CM नितीश का ऐलान

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो और पूर्व सीएम लालू यादव की तबीयत अचानक बिगड़ गई है, जिसके बाद उन्हें पटना के प्राइवेट अस्पताल में एडमिट कराया गया है। इसी बीच बिहार के सीएम नीतीश कुमार कल बुधवार (6 जुलाई, 2022) को लालू प्रसाद यादव से मिलने पटना के पारस अस्पताल पहुँचे थे। जहाँ नीतीश कुमार ने डॉक्टरों से भी उनकी स्थिति के बारे में जानकारी ली। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस दौरान तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी भी अस्पताल में उपस्थित रहीं।

 

राजद सुप्रीमो से मुलाकात के बाद नीतीश कुमार ने कहा है कि, 'लालू जी की स्थिति पहले से बेहतर है। उन्हें दिल्ली ले जाकर उपचार और हर तरह की जांच कराने का फैसला किया गया है। सब कुछ सरकार करेगी कोई समस्या नहीं है।' नीतीश कुमार ने लालू के जल्दी स्वस्थ्य होने की कामना भी की है। सीएम नीतीश कुमार ने कहा है कि, 'लालू जी को 10-15 दिन बाद किडनी ट्रांसप्लांट के लिए सिंगापुर ले जाना था, मगर अब फ्रेक्चर हो चुका है। दिल्ली में डॉक्टरों से बात करेंगे जो सिचुएशन होगी उस हिसाब से तय करेंगे।' वहीं नीतीश कुमार ने लालू यादव से मिलने के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि, 'समाचार मिलने के बाद फ़ौरन लालू जी की जानकारी ली, आज खुद लालू जी से मिलने पहुँचा हूँ। लालू जी की तबीयत पहले से बेहतर हुई है। लालू जी के साथ हमारे पुराने दिनों के ताल्लुक रहे हैं। आज लालू जी को दिल्ली ले जाकर उपचार कराने का फैसला लिया गया है। बेहतर है दिल्ली जाकर सभी चीज की बेहतर जाँच होगी।'

बता दें कि सरकारी खर्च पर उपचार होने के सवाल पर नीतीश कुमार ने कहा कि, 'ये कोई पूछने वाली बात ही नहीं है। इस पर लालू जी का हक बनता है। इन तमाम बातों को लेकर बिहार में नियम बना हुआ है।' वहीं, लालू के बेटे तेजस्वी यादव ने बताया कि पिताजी की तबीयत बिगड़ने के बाद पीएम मोदी ने भी फोन कर उनका हालचाल पुछा है। उन्होंने कहा कि, 'मंगलवार (5 जुलाई) को पीएम मोदी का फोन आया था। जब से लालू जी भर्ती हुए हैं, तब से लगातार CM नितीश भी उनकी जानकारी ले रहे हैं। राहुल गाँधी और प्रियंका गाँधी से भी हमारी बात हुई है। सब यही दुआ कर रहे हैं कि जल्द से जल्द लालू जी स्वस्थ हो जाएँ।'

बता दें कि विगत रविवार, 3 जुलाई की शाम को लालू प्रसाद यादव, राबड़ी आवास में सीढ़ी से उतरने के दौरान संतुलन खोने की वजह से गिर गए थे। इससे उनके कमर और कंधे में चोट लगी थी। गिराने के कारण लालू यादव के दाएँ कंधे में माइनर फ्रैक्चर हो गया था। इसके बाद 4 जुलाई की सुबह उन्हें पटना के पारस अस्पताल में एडमिट करवाया गया है।  

गुजरात विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने 37 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की

ख़बरों में छाया RCP सिंह का इस्तीफा और PM मोदी का ट्वीट, जानिए क्या है खास?

जम्मू कश्मीर के पूर्व CM फ़ारूक़ अब्दुल्ला को 'तिरंगे' से चिढ़ क्यों ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -