अब्दुल्ला ने मुंडन कराकर पहनी जनेऊ, 15 साल बाद 'घर वापसी' कर बन गए उमेश राय

पटना: बिहार के समस्तीपुर के मोहम्मद अब्दुल्ला वापस उमेश राय बन गए हैं। 15 सालों के बाद उन्होंने हिन्दू धर्म में ‘घर वापसी’ की है। एक शख्स के संपर्क में आकर मुस्लिम बनने वाले उमेश राय को बाद में एहसास हुआ कि मुस्लिम समुुदाय के लोग उसे अपना नहीं मानते। इसके बाद उन्होंने पुनः हिंदू धर्म में लौटने का फैसला लिया। बताया जा रहा है कि अब्दुल्ला का गाँव के ही मोहम्मद रियाज से झगड़ा चल रहा था। इसको लेकर बुलाई गई पंचायत में आरोपित के बजाए खुद (अब्दुल्ला) को दोषी ठहराने और अपने खिलाफ फैसला सुनाए जाने से वे आहत थे।

इसके कारण उन्होंने वापस हिंदू धर्म अपनाने का फैसला लिया है। मामला समस्तीपुर के ताजपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले भैरव खरा गाँव का है। शनिवार (25 दिसंबर 2021) को गाँव के काली मंदिर में हिंदू पुत्र संगठन द्वारा घर वापसी कार्यक्रम आयोजित किया गया था।  सबसे पहले मोहम्मद अब्दुल्ला ने मुंडन करवाया। इसके बाद स्नान कर हिंदू रीति-रिवाज के मुताबिक, पाग और जनेऊ धारण करवाकर उनकी घर वापसी करवाई गई। जानकारी के अनुसार, मोहम्मद अब्दुल्ला से उमेश बने शख्स के साथ उसके पड़ोस में रहने वाले मोहम्मद रियाज ने मारपीट की थी और उसकी हत्या की कोशिश भी की थी।

इसको लेकर गाँव में मुस्लिम समुदाय से संबंधित लोगों के द्वारा पंचायत बुलाई गई थी। पंचायत ने आरोपित की जगह धर्म परिवर्तन करने वाले मोहम्मद अब्दुल्ला (अब उमेश) को दोषी करार देते हुए उसके खिलाफ फैसला दिया। पंचायत के फैसले से आहत होकर उसने धर्म बदलने का निर्णय लिया। उन्होंने 15 वर्षों बाद पुनः हिंदू धर्म स्वीकार किया और अब्दुल्ला से उमेश बन गए।

तमाम कोशिशों के बाद भी पाकिस्तान हमारी 1 इंच जमीन नहीं ले सकता - गुलाम नबी आज़ाद

म्यांमार के कायाह में बच्चों और महिलाओं सहित 30 से अधिक की मौत, शव जलाए गए

बड़ी खबर: 14 वर्ष के अमन राज सिंह ने जीती नेशनल घुड़सवारी प्रतोयोगिता

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -