'आज स्कूल मत जा, घर सूना हो जाएगा...', पिता की बात से नाराज़ पुत्री ने लगाई फांसी

पटना: बिहार के खगड़िया जिले में एक 12 वर्षीय बच्ची की खुशकुशी का मामला प्रकाश में आया है। घर सूना देख पिता ने जब बेटी से स्कूल न जाने की प्यार भरी गुजारिश की,  तो बच्ची को यह नागवार गुजरी और उसने फांसी के फंदे पर झूलकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. घटना परबत्ता थाना इलाके के अंतर्गत आने वाले सिराजपुर गांव की है, जहां के निवासी सुमन चौधरी स्कूल में टीचर हैं. 

बुधवार को सुमन कुमार की पत्नी भागलपुर खरीदारी करने जा रही थी. इस बीच माँ ने अपनी बेटी राधा रानी से कहा कि 'तुम स्कूल चली जाना. मैं भागलपुर बाजार करने जा रही हूं.' बेटी स्कूल जाने के लिए तैयार होने लगी. इसी बीच, पिता सुमन चौधरी ने बेटी से कहा कि, 'तुम आज स्कूल मत जाओ, यहां कोई नहीं है. घर सूना हो जाएगा. पिता की यही बात बेटी को पसंद नहीं गई.  पिता के घर से बाहर जाते ही राधा ने पलंग पर चढ़कर पंखे से दुपट्टा बांधा और उस पर झूलकर अपनी जान दे दी.

किसी काम से उसके घर पहुंचे पड़ोसी ने जब यह दृश्य देखा, तो फोन पर राधा रानी के पिता को सूचना दी. पिता दौड़े हुए घर आए, हालांकि तब तक बेटी के सांसें थम चुकी थीं. बताया जा रहा है कि घटना के समय मृतका की मां भागलपुर गई थी. पिता के अनुसार, राधा रानी ने अटैची के सहारे पंखे से झूलकर अपनी जान दे दी है. वहीं पुलिस इस मामले की जांच में जुटी हुई है.

छात्रा की आत्महत्या के बाद फंदे पर लटका टीचर, कहा- छात्र मुझे चिढ़ाने...

मॉडल से निकाह करके फंस गया इमाम, बीवी बोलती है- पहले दाढ़ी कटाओ, तभी मेरे पास आना..

5000 लड़कियों को जिस्मफरोशी में धकेल चुका था बांग्लादेशी मोमिन, 25 सालों से भारत में रह रहा था

Most Popular

- Sponsored Advert -