नालंदा मेडिकल कॉलेज में हुआ कोरोना ब्लास्ट, 72 डॉक्टर हुए संक्रमित

पटना: बिहार की राजधानी पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज तथा हॉस्पिटल के कम से कम 72 और डॉक्टर कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. सोमवार रात को ताजा संक्रमण का पता चलने के साथ, बीते तीन दिनों में कुल 168 चिकित्सकों तथा पीजी मेडिकल विद्यार्थी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं. वही NMCH के 153 डॉक्टरों के नमूनें लिए गए, जिनमें से 72 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. 1 जनवरी को 69 चिकित्सकों का आरटी-पीसीआर परीक्षण किया गया था, जिनमें से 20 सकारात्मक पाए गए थे. 

वही 2 जनवरी, 194 को मेडिकल विद्यार्थियों तथा जूनियर चिकित्सकों ने आरटी-पीसीआर टेस्ट किया गया था, जिनमें से 84 संक्रमित पाए गए थे. एनएमसीएच के चिकित्सा अधीक्षक विनोद प्रसाद ने कहा, 'सभी संक्रमित चिकित्सा कर्मचारियों तथा विद्यार्थियों को आइसोलेशन वार्ड में स्थानांतरित कर दिया गया है. वे निगरानी में हैं तथा उनका स्वास्थ्य सामान्य है.'

वही इस बीच, बिहार ने मंगलवार को 344 नए केस दर्ज किए, जिनमें तख्त श्री हरिमंदिर साहिब परिसर से 23, पटना एम्स के चार डॉक्टर तथा पटना के रूपसपुर में एक ही परिवार के चार लोग सम्मिलित हैं. पटना में मंगलवार प्रातः कुल 160 केस सामने आए. इस बीच, गया में 88 केस दर्ज किए गए, मुजफ्फरपुर 11, मुंगेर में नौ, बेगूसराय, दरभंगा तथा भागलपुर में सात-सात, लखीसराय, सहरसा पांच-पांच, जहानाबाद तथा पश्चिम चंपारण में चार-चार, अररिया, नवादा, मधेपुरा, सीवान में तीन-तीन, औरंगाबाद, गोपालगंज, खगड़िया, नालंदा, वैशाली, समस्तीपुर में दो-दो, पूर्वी चंपारण, बांका, किशनगंज, मधुबनी, रोहतास, सीतामढ़ी, शिवहर, सुपौल तथा शेखपुरा एक-एक कोरोना संक्रमित पाए गए, जबकि यहां संक्रमित पाए गए चार लोग दूसरे प्रदेशों से आए थे.

8वीं-12वीं और ग्रेजुएट पास के लिए निकली है नौकरियां, देंखे पूरा विवरण

Ind Vs SA: शार्दुल ठाकुर की धारदार गेंदबाज़ी से मैच में वापस लौटी टीम इंडिया

एक हफ्ते में ठीक हो रहे हैं ओमिक्रान के 99% मरीज!, इन बीमारी वाले लोगों को है सबसे खतरा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -