मेसेंजर यूजर्स के लिए बड़ी खबर, जल्द ही मिलेगा एक और नया फीचर

नई दिल्ली: मेटा अपने ऐप फेसबुक के मैसेंजर ऐप के लिए एंड टू एंड इंक्रिप्शन रोलआउट शुरू करने वाला है. यह एंड टू एंड इंक्रिप्शन वॉइस और वीडियो कॉल पर ही लागू की जाने वाली है. इस बारे में कंपनी के CEO मार्क जकरबर्ग (Mark Zuckerberg) ने खुद फेसबुक पर एलान किया था. इतना ही नहीं  कंपनी ने यह भी अनाउंस किया था कि ग्रुप चैट और ग्रुप ऑडियो और वीडियो कॉल के लिए भी एंड टू एंड इंक्रिप्शन में ऑप्ट-इन होने वाला है. इससे पहले केवल टेक्स्ट चैटिंग के लिए ही ये फीचर लॉन्च किया गया था.

एंड टू एंड इंक्रिप्शन का फीचर कंपनी के ही दूसरे ऐप WHATSAPP पर पहले से ही लागू किया जा चुका है. वॉटसऐप ने गूगल ड्राइव या अन्य स्थानों पर होने वाले अपने बैकअप को भी एंड टू एंड इंक्रिप्टेड कर दिया गया है. अब इसे फेसबुक मैसेंजर पर भी लाया जाने वाला है. मार्क जकरबर्ग ने फेसबुक पर लिखा कि इंक्रिप्शन को विस्तृत रूप से लागू करके उन्हें बहुत खुशी मिल रही है.

एंड टू एंड इंक्रिप्शन है क्या: फिलहाल WhatsApp मैसेंजर पर एंड टू एंड इंक्रिप्शन फीचर का उपयोग किया जा रहा है, इसलिए WHATSAPP के उदाहरण से ही इसे अच्छे से समझ सकते है. WHATSAPP के FAQ में दी गई जानकारी के मुताबिक, ‘एंड टू एंड एन्क्रिप्शन फ़ीचर से यह पक्का हो चुका है कि मैसेज और कॉल सिर्फ़ आपके और आपके कॉन्टैक्ट के मध्य ही रहें. कोई और, यहाँ तक कि WhatsApp भी उन्हें पढ़, सुन और देख नहीं पाएंगे. आसान भाषा में, एंड टू एंड एन्क्रिप्शन कुछ ऐसे कार्य कर रहा है कि भेजे जाने से पहले मैसेज एक ऐसे डिजिटल लॉक से सुरक्षित किए जाते हैं, जिन्हें देखने या सुनने के लिए एक डिजिटल चाबी की आवश्यकता होती है जो सिर्फ़ मैसेज पाने वाले व्यक्ति के पास होती है. बीच में इन मैसेजेस या कॉल्स को कोई देख, पढ़ या सुन नहीं पाएगा. यह सब ऑटोमैटिकली होता है. अपने मैसेज सुरक्षित करने के लिए आपको कोई सेटिंग ऑन करने की कोई आवश्यकता नहीं होती है.’

जानिए JioPhone Next से जुड़ी ये 5 विशेष बातें

NETFLIX यूजर्स के लिए बड़ी खबर, जल्द मिलेगा ये शानदार फीचर

भारत में लॉन्च हुआ LAVA AGNI 5g, जानिए क्या है इसकी कीमत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -