कमजोर बिक्री, रीयल एस्टेट कम्पनियों के लिए चुनौती

कमजोर बिक्री, रीयल एस्टेट कम्पनियों के लिए चुनौती

नई दिल्ली : हाल ही में जानी मानी रेटिंग एजेंसी मूडीज ने बताया है कि मकानों की कीमतों में स्थिरता और बिक्री में नरमी के कारण अगले 12 महीनों में बड़ी रीयल एस्टेट कम्पनियों के लिए चुनौती पैदा होगी और इसके कारण कम्पनियों के नकदी प्रवाह के साथ ही परियोजनाओं के क्रियान्वन की क्षमता भी प्रभावित होगी. इसके साथ ही मूडीज ने यह भी कहा है कि बिक्री को बढ़ाये जाने के लिए दाम नहीं घटाए जायेंगे बल्कि अपर्टमेंट का आकर कम किया जा सकता है और साथ ही फ्री चीजों की पेशकश की जा सकती है.

इसके अलावा मूडीज का यह भी कहना है कि आर्थिक वृद्धि मजबूत रहने से आवासों की बिक्री को समर्थन मिलने के अनुमान है और इसके साथ ही ऋण ब्याज की दरें घटाए जाने से निवेश की गतिविधि में भी तेजी आ सकती है. साथ ही यह अनुमान लगाया गया है कि मकानों की बढ़ी हुई कीमतों के चलते बिक्री कमजोर बनी रहेगी जिससे बिना बिके हुए मकानों की इनवेंटरी का सृजन होगा.