उद्धव गुट को बड़ा झटका, शिंदे गुट में शामिल हुआ ये नेता

उद्धव गुट को बड़ा झटका, शिंदे गुट में शामिल हुआ ये नेता
Share:

मुंबई: महाराष्ट्र में शिवसेना के उद्धव ठाकरे गुट को बड़ा झटका लगा है। कभी शिवसेना सांसद संजय राऊत के कट्टर सपोर्टर रहे नासिक जिले के संपर्क प्रमुख भाऊसाहेब चौधरी ने शिंदे गुट का दामन थाम लिया है। शुक्रवार को शिंदे गुट में सम्मिलित होने के पश्चात् ठाणे के डोंबिवली में उनका जोरदार स्वागत किया गया। शिंदे गुट की सदस्यता लेने के पश्चात् भाऊसाहेब ने कहा कि उन्होंने कभी किसी पद के लिए काम नहीं किया। 

शिवरेना का शिंदे गुट ज्वाइन करने के बाद भाऊसाहेब ने कहा कि वे शिवसेना पार्टी प्रमुख बालासाहेब एवं सीएम एकनाथ शिंदे के विचारों को आगे बढ़ाने का काम करेंगे। बता दें कि शिवसेना के उद्धव गुट ने भाऊसाहेब पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में सम्मिलित होने का आरोप लगाते हुए उन्हें पहले ही पार्टी से बाहर निकाल दिया था। शिंदे गुट में सम्मिलित होने के पश्चात् भाऊसाहेब शुक्रवार शाम डोंबिवली में पार्टी के दफ्तर पहुंचे, जहां उनका फूलों की वर्षा और बेंजो की आवाज के साथ स्वागत किया गया। उन्होंने अपनी भूमिका के बारे में बताते हुए कहा कि वह पार्टी से मिलने वाली जिम्मेदारी को संभालेंगे। 

वही इसके चलते उनसे इस मौके पर उपस्थित महेश पाटिल के साथ विरोध प्रदर्शन में लगे आरोप-प्रत्यारोप पर सवाल पूछा गया। इस पर उन्होंने कहा कि महेश पाटिल उनके मित्र हैं। दोनों को उस वक़्त अपनी-अपनी पार्टी के लिए जो सही लगा, उन्होंने किया मगर अब दोनों एक ही पार्टी में हैं तथा पार्टी के लिए जो सही होगा और सीएम जो आदेश देंगे वह करेंगे। बता दें कि उद्धव गुट में रहते हुए भाऊसाहेब शिवसेना शाखा प्रमुख, विभाग प्रमुख, शहर प्रमुख, परिवहन अध्यक्ष जैसे दायित्व संभाल चुके हैं। तत्पश्चात, उन्हें नासिक जिला संपर्क प्रमुख की जिम्मेदारी दे दी गई थी। तब से ही उनका झुकाव नासिक की ओर अधिक हो गया था। कुछ वर्ष पूर्व भाऊसाहेब चौधरी ने भाजपा नेता रावसाहेब दानवे का विरोध किया था, तब वह शिवसेना उद्धव गुट के शहर प्रमुख थे। मगर उस वक़्त के राजनीतिक कट्टर विरोधी अब मित्र बन गए हैं। भाऊसाबेह की सदस्यता के मौके पर उपस्थित महेश पाटिल ने भाऊसाहेब का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि वे आज भी शिवसेना के लिए काम कर रहे हैं एवं शिवसेना पार्टी प्रमुख बालासाहेब और सीएम एकनाथ के विचारों को आगे बढ़ा रहे हैं। उन्होंने खुद को जमीनी कार्यकर्ता बताते हुए कहा कि ग्रामीण इलाकों में भी इस सरकार में कई सालों से रुके हुए कार्यों को तेजी से किया जा रहा है।

कोरोना के नए वैरिएंट ने बढ़ाई सरकार की टैंशन, CM शिवराज ने दिए ये निर्देश

खाई में जा गिरी BJP नेता की कार, हालत गंभीर

29 दिसंबर को लगेगा साल का आखिरी रोजगार मेला, युवाओं के लिए सुनहरा मौका

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -