इस राज्य में दिखने लगा चक्रवात गुलाब का असर, शुरू हुई जोरदार बारिश

भुवनेश्वर: चक्रवात गुलाब का असर अब दिखने लगा है। जी हाँ, इसका प्रभाव राजधानी भुवनेश्वर के साथ दक्षिण ओड़िशा में नजर आ रहा है। यहाँ चक्रवात गुलाब के चलते हवा के साथ भीषण बारिश शुरू हो चुकी है। दक्षिण ओड़िशा में भारी बारिश अभी से शुरू हो गई है। वहीं गजपति जिले के गुम्मा ब्लाक अन्तर्गत नामनगड़ से अजयगड़ रास्ते पर भुस्खलन (पहाड़ से मिट्टी खिसखने के कारण) होने से आवागमन ठप हो गया है। हाल ही में मौसम विभाग ने यह जानकारी दी है कि चक्रवात गुलाब वर्तमान समय में गोपालपुर बंदरगाह से 180 किमी. एवं आन्ध्रप्रदेश के कलिंगपत्तनम से 230 किमी. की दूरी पर केन्द्रीभूत है और यह 17 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है।

इसी के साथ चक्रवात गुलाब से गजपति एवं गंजाम जिला अधिक प्रभावित होने की सूचना मौसम विभाग की तरफ से दी गई है ऐसे में इन दोनों जिलों में निचले इलाके में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाने की प्रक्रिया तेज कर दी गई है। वहीं यह भी कहा जा रहा है कि इन दोनों जिलों से अब तक 5 हजार से अधिक लोगों को स्थानांतरित कर सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया है। अब भी लोगों को स्थानांतरण करने की प्रक्रिया जारी है।

खबरों के अनुसार चक्रवात गुलाब ओड़िशा के गोपालपुर एवं आन्ध्र प्रदेश के कलिंगपत्तनम के बीच ओड़िशा सीमा में लैंडफाल कर सकता है। आज रात 9 से 10 बजे के बीच लैंडफाल करने की सम्भावना है। आपको बता दें कि लैंडफाल की प्रक्रिया तीन से चार घंटे तक चलेगी। लैंडफाल के समय हवा की गति 75 से 85 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने की सम्भावना है। इसी के चलते गोपालपुर बंदरगाह में 7 नंबर, पुरी बंदरगाह में 6 नंबर तथा पारादीप एवं अन्य बंदरगाहों में 3 नंबर खतरे का निशान लगाया गया है।

जाकिर नाइक को है बहू की तलाश, शर्ते पढ़कर उड़ जाएंगे होश

बॉलीवुड की वो 5 फिल्में, जो दर्शाती है माता-पिता और बेटी का अटूट रिश्ता

भारत लौटे PM मोदी, ढोल-नगाड़ों से हुआ भव्य स्वागत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -