कांग्रेस का समर्थन करने का कोई कारण की नहीं - भीम आर्मी

कांग्रेस का समर्थन करने का कोई कारण की नहीं - भीम आर्मी

लखनऊ: भीम आर्मी ने स्पष्ट कर दिया है कि 2019 लोकसभा चुनाव में यूपी में उसका कांग्रेस पार्टी का समर्थन करने की कोई वजह ही नहीं है. भीम आर्मी का कहना है कि कांग्रेस ने अपने 60 वर्ष के शासनकाल में दलितों के लिए कोई काम नहीं किया. भीम आर्मी के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनय रत्न सिंह का यह बयान कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी की पार्टी चीफ चंद्रशेखर आजाद के साथ हुई भेंट के कुछ दिन बाद आई है. 

गोवा: मनोहर पर्रिकर की हालात बिगड़ी, नए सीएम की तलाश में जुटी भाजपा

उल्लेखनीय है कि प्रियंका गांधी ने गत बुधवार को मेरठ के एक अस्पताल में भर्ती चंद्रशेखर से मुलाकात की थी. दोनों नेताओं की इस भेंट के बाद राजनीतिक हलकों में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया था और इसे कांग्रेस की दलितों तक पकड़ बनाने के कदम के रूप में देखा जा रहा था.सिंह ने कहा है कि, 'कांग्रेस ने इतने वर्षों तक देश पर शासन किया किन्तु हम लोगों के लिए कोई काम नहीं किया. कांग्रेस के शासनकाल में दलितों पर अत्याचार हुए . इसने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को आगे बढ़ने का अवसर दिया.' 

लोकसभा चुनाव: सपा-बसपा गठबंधन के आगे झुकी कांग्रेस, समझौते के लिए बढ़ाया हाथ

इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि भीम आर्मी के कांग्रेस को समर्थन करने कोई एक भी वजह नहीं है. उन्होंने चंद्रशेखर आजाद और प्रियंका गांधी की मुलाकात के सवाल पर जवाब देते हुए कहा है कि, 'प्रियंका, चंद्रशेखर भाई से मिलना चाहती थीं किन्तु उन्होंने इंकार कर दिया.इसके बाद प्रियंका ने विशेष आग्रह किया और इस तरह दोनों के बीच कुछ मिनट के लिए ही मुलाकात हुई. इसमें भी उन दोनों की वार्ता में कोई राजनीतिक मामला सामने नहीं आया. 

खबरें और भी:-

लोकसभा चुनाव: भाजपा-शिवसेना के बेच सुलझा पेंच, जलना से बीजेपी ही उतारेगी उम्मीदवार

लोकसभा चुनाव: विपक्ष के गठबंधन पर बोले सीएम योगी, कहा- उन्हें अस्तित्व को खतरा

भाजपा के 'मैं भी चौकीदार' अभियान पर सिंधिया का कटाक्ष, कहा- उल्टा चोर कोतवाल को डांटे