भीगे कागज़ की तरह

िकाल दिया उसने हमें अपनी ज़िन्दगी से भीगे कागज़ की तरह,
ना लिखने के काबिल छोड़ा, ना जलने के..!!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -