एयरटेल की सहायक कंपनियां करेगी ऑरेंज का अधिग्रहण

नई दिल्ली : हाल ही में यह खबर सामने आई है कि भारती एयरटेल अपनी मशहूर टेलिकॉम कंपनी ऑरेंज को बेचें की दिशा में एक अहम कदम उठाने का काम करने वाली है. इसके साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि कम्पनी के द्वारा ऑरेंज को अपनी सहायक कंपनियों बुरकिना फासो और सिएरा लिओने को बेचने का फैसला किया गया है.

सूत्रों से ही यह बात भी सामने आ रही है कि इस समझौते से एयरटेल को विदेशी मुद्रा में उतार-चढ़ाव के बावजूद भी अफ्रीका में हो रहे कम्पनी के नुकसान की भरपाई करने में सहायता मिलेगी. साथ ही जानकारी में आपको यह भी बता दे कि ऑरेंज के द्वारा इन दोनों कंपनियों के 100 फीसदी शेयर कैपिटल का अधिग्रहण किया जाना है.

बता दे कि इन दोनों ही कंपनियों का कंसोलिडेटेड रिवेन्यु लगभग 27.5 करोड़ यूरो देखने को मिला है. इस मामले में अधिक जानकरी देते हुए भारती एयरटेल ने यह बताया है कि ये समझौता कोटे डिआइवोरी और सेनेगल के माध्यम से ही किये जाने का निर्णय लिया गया है. गौरतलब है कि जुलाई में ऑरेंज और भारती एयरटेल इंटरनेशनल के दवरा एयरटेल की कंपनियों बुरकिना फासो, चाड, कांगो ब्राजाविले और सिएरा लिओने के अधिग्रहण पर समझौता किया गया था.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -