भारत बंद LIVE : बंगाल में पुलिस को खदेड़ा, प्रदर्शनकारियों ने सरकार पर लगाए आरोप

Jan 09 2019 03:10 PM
भारत बंद LIVE : बंगाल में पुलिस को खदेड़ा, प्रदर्शनकारियों ने सरकार पर लगाए आरोप

नई दिल्ली : विभिन्न केंद्रीय श्रमिक संगठनों की राष्ट्रव्यापी हड़ताल का आज दूसरा दिन है और देश के कुछ हिस्सों में सामान्य जनजीवन पर इसका असर साफ़ तौर पर देखने को मिल रहा है. संगठन का आरोप है कि सरकार श्रमिकों के प्रतिकूल नीतियां अपना रही है. वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़, कुछ राज्यों में सड़क परिवहन तथा बैंकिंग सेवाएं दूसरे दिन भी कई हद तक ठप्प रही है. कहा जा रहा है कि इस हड़ताल को 10 केंद्रीय श्रमिक संगठनों का समर्थन है और इनमे एटक, इंटक, एचएमएस, सीटू, एआईटीयूसी, टीयूसीसी, सेवा, एआईसीसीटीयू, एलपीएफ और यूटीयूसी अदि शामिल हैं.

अलग-अलग संगठनों ने विरोध जताते हुए आज  राजधानी में मंडी हाउस से संसद की ओर विरोध रैली निकालने की घोषणा भी की है. जबकि अन्य कई स्थानों पर भी जुलूस निकलकर हंगामा किया जाएगा. दूसरी और इसका असर बंगाल में कुछ छिटपुट घटनाओं के तहत देखने को मिला है. पुलिस के मुताबिक़, हावड़ा जिले में स्कूल बसों पर पथराव किया गया. साथ ही घटनास्थल पर पहुंची पुलिस को भी प्रदर्शनकारियों ने वहां से खदेड़ दिया. जबकि कोलकाता में  वरिष्ठ माकपा नेता सुजान चक्रवर्ती को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. 

क्या है संगठनों की मांग ?

हड़ताल कर रहे संगठनों का आरोप है कि सरकार ने श्रमिकों के मुद्दों पर उसकी 12 सूत्री मांग पर कुछ नहीं किया है. साथ ही उनका यह भी कहना है कि श्रम मामलों पर वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में गठित मंत्रियों के समूह ने दो सितंबर 2015 के बाद यूनियनों को वार्ता के लिए एक बार भी नहीं बुलाया है. संगठन श्रम संघ कानून 1926 में प्रस्तावित संशोधनों के भी विरोध में खड़े हुए हैं. फ़िलहाल इस हड़ताल को लेकर कहा जा रहा है कि यह और भी विकराल रूप धारण कर सकती है. 

दोस्त की माँ ने दी शादी की सलाह तो युवक ने दिखा दी हैवानियत..

सरकार ने किया बड़ा खुलासा, साढ़े 4 साल में 838 आतंकियों को उतारा मौत के घाट

अब निजी कंपनी के कर्मचारियों को मिल सकता है यह अधिकार

सोलापुर को पीएम मोदी ने दी 3,168 करोड़ की सौगात, कांग्रेस को बताया कामों को लटकाने वाली पार्टी