बीएफआई ने शुरू की मुक्केबाज़ी प्रशिक्षण केंद्र की योजना

भारतीय मुक्केबाजी संघ (बीएफआई) ने ओलंपिक का टिकट हासिल करने वाले मुक्केबाजों के लिए 10 जून से प्रशिक्षण शिविर प्रारम्भ करने की योजना बनाई है, जिसमें कोविड-19 महामारी के मद्देनजर महत्वपूर्ण सुरक्षा के साथ पुरुष व महिला खिलाड़ी पटियाला में एक्सरसाइज करेंगे. शिविर में हालांकि मुक्केबाजों को रिंग में जाने की अनुमति नहीं होगी व उन्हे दूसरे मुक्केबाज के साथ स्पैरिंग (मुक्केबाजी अभ्यास) पर भी रोक होगी.

इसका निर्णय एक वीडियो कांफ्रेंस में हुआ जिसमें ओलंपिक के लिए चुने गए मुक्केबाजों के अतिरिक्त बीएफआई के कार्यकारी निदेशक आरके सचेती, उपाध्यक्ष राजेश भंडारी, हाई परफोर्मेंस निदेशकों सैंटियागो नीवा (पुरुष) व राफेल लड़ाकू विमान बर्गमास्को (महिला) के साथ मुख्य राष्ट्रीय कोच सीए कटप्पा (पुरुष) व मोहम्मद अली कमर (महिला) उपस्थित थे. महासंघ के एक ऑफिसर ने बताया, ''यह आगे की योजना है. मुक्केबाजों का मानना ​​था कि भले ही उन्होंने अब तक बहुत अच्छा कार्य किया हो लेकिन शिविर के औपचारिक प्रशिक्षण का कोई विकल्प नहीं है.'' उन्होंने बताया, ''महिला मुक्केबाज (जो दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में प्रशिक्षण कर रहीं थी) भी एनआईएस (राष्ट्रीय खेल संस्थान) पटियाला में आयोजित होने वाले संयुक्त शिविर में भाग लेंगी.''

टोक्यो ओलंपिक के लिए नौ भारतीय मुक्केबाजों ने क्वॉलिफाई किया है जिसमें अमित पंघाल (52 किग्रा), मनीष कौशिक (63 किग्रा), विकास कृष्णन (69 किग्रा), आशीष कुमार (75 किग्रा), सतीश कुमार (91 किग्रा से अधिक), एमसी मेरीकोम (51 किग्रा), सिमरनजीत कौर (60 किग्रा), लोवलिना बोरगोहिन (69 किग्रा) व पूजा रानी (75 किग्रा) शामिल है. इन मुक्केबाजों में से विकास, मनीष व आशीष वीडियों कांफ्रेस से नहीं जुड़ सके, लेकिन उन्होंने 10 जून से शिविर के लिए हामी भर दी है. गृहमंत्रालय से स्टेडियम व खेल परिसरों को खिलाड़ियों के लिए खोलने की अनुमति मिलने के बाद भी शिविर को तुरंत प्रारम्भ नहीं करने का निर्णय किया गया. यह 31 मई तब लागू देशव्यापी अंतरराज्यीय लॉकडाउन के दौरान यात्रा संबंधी कठिनाई को देखते हुए लिया गया. कोविड-19 महामारी के कारण मार्च में देशभर में लागू हुए लॉकडाउन के कारण मुक्केबाज अपने घर पर ही एक्सरसाइज कर रहे थे.

सरकार ने ला लीगा को इस दिन से गेम खेलने की दी मंज़ूरी

खिलाड़ियों के घर जाने पर हॉकी इंडिया ने रखी ये शर्त

राजीव मेहता का बड़ा बयान, कहा- 'खिलाड़ी हमारी संपत्ति हैं...'

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -