नक्सलियों के साथ जोरदार मुठभेड़, 1 घंटे तक चला मुकाबला

सोमवार को छत्तीसगढ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में नक्सलियों के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ में सीआरपीएफ के जवान मुन्ना यादव शहीद हो गए. शहीद जवान मूल रूप से झारखंड के रहने वाले थे. मिली जानकारी के अनुसार जिले के मिरतुर थाना क्षेत्र में यह मुठभेड़ हुई है. एसपी कमलोचन कश्यप ने बताया कि जवानों के साथ नक्सलियों की करीब 1 घंटे तक मुठभेड़ चली इस मुठभेड़ में और नक्सलियों के मारे जाने की भी खबर है जवान अभी भी इलाके में फंसे हुए हैं, इसीलिए पूरी जानकारी मिल पाना अभी संभव नहीं है.

वित्त मंत्रालय का बड़ा ऐलान- किसी भी केंद्रीय कर्मचारी की सैलरी नहीं कटेगी

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि सोमवार को इलाके में नक्सलियों की मौजूदगी को देखते हुए डीआरजी और सीआरपीएफ के जवानों की एक संयुक्त टीम एंटी नक्सल ऑपरेशन के लिए इलाके में भेजी गई थी. इसी दौरान सोमवार को दोपहर के करीब 2 बजे के आसपास नक्सलियों से जवानों की मुठभेड़ हो गई और इसी मुठभेड़ में सीआरपीएफ जवान मुन्ना यादव शहीद हो गए. वे मूल रूप से महादेव गंज झारखंड जिला सिबगंज के रहने वाले थे. सर्चिंग पार्टी के वापस लौटने के बाद ही इस मुठभेड़ के संबंध में पूरी जानकारी मिल पाएगी.

गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मिलीं हेमा मालिनी, यूपी के प्रवासी मजदूरों को लेकर की चर्चा

इसके अलावा छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले में महाराष्ट्र के गढ़चिरौली से सटी सीमा पर स्थित परधौनी जंगल में हुई मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर हो गए थे. बाद में उनकी शिनाख्त कर ली गई. मारे गए हार्डकोर नक्सलियों पर कुल 15 लाख रुपये का इनाम था. इनमें दो महिला नक्सली भी शामिल हैं. इस मुठभेड़ में मदनवाड़ा थाना प्रभारी उपनिरीक्षक श्याम किशोर शर्मा शहीद हो गए थे.

लॉकडाउन के बाद भी देशभर में हुई गेंहू की बंपर खरीद, लक्ष्य के करीब पहुंची सरकारी एजेंसियां

बुरी तरह जल चुकी बेटी का इलाज कराने दिल्ली आया था परिवार, लॉकडाउन में फंसा

तीन दिन से कोमा में अजित जोगी, वेंटीलेटर के जरिए दी जा रही साँस

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -