डिलीवरी के बाद सेक्स के लिए यह समय रहेगा सबसे सुरक्षित

डिलीवरी के बाद सेक्स के लिए यह समय रहेगा सबसे सुरक्षित

9 महीने के गर्भ के बाद जब कोई महिला किसी बच्चे को जन्म देती है तो पुरे घर में खुशियों की बहार आ जाती है. महिला की डिलीवरी दो तरह से होती है या तो ऑपरेशन से या तो नार्मल. वहीं इन प्रोसेस के बाद जब सब कुछ नार्मल हो जाता है तब शादीशुदा जोड़ों के बीच अक्सर एक सवाल उठता है कि आखिर डिलीवर के बाद हम सेक्स कब कर पाएंगे. इस सवाल के लिए इस आर्टिकल को आगे पढ़ना जारी रखिए....

1. महिला के टांके: डिलीवरी के बाद महिला को टांके लगते है. साधारण डिलीवरी में यह टांके कम होते है वहीं ऑपरेशन से टांके ज्यादा होते है, ऐसे में कोशिश करे कि पुरे टांके ठीक हो जाने के बाद ही सेक्स करे, नहीं तो यह आपके पार्टनर के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है. 

2. मानसिक स्थिति: डिलीवरी के बाद बच्चे होने पर 9 महीने के लम्बे अंतराल से महिला की मानसिक स्थिति थोड़ी बदल जाती है, वहीं वो कुछ-कुछ छिड़ने लगती है, ऐसी कंडीशन में कोशिश करे कि सब कुछ ठीक हो जाने के बाद ही सेक्स करे. 

3.रक्त स्त्राव बंद होने दे: सामान्य तौर पर देखा जाता है कि डिलीवरी के तीन हफ़्तों तक खून का बहाव लगातार होता है, दरअसल यह एक वैज्ञानिक प्रोसेस है जिसमें महिला के शरीर के अंदर के पार्ट्स साफ होते है. ऐसे में हमेशा कोशिश करे ब्लीडिंग पूरी तरह से खत्म होने के बाद ही सेक्स करे. 

सेक्स के पहले ये खास तैयारियां करती हैं लड़कियां

सेक्स को लेकर महिलाओं ने खोले गहरे राज

इन गलतियों से आप कर देते हैं सेक्स का मज़ा ख़राब

?