सीनियर सिटीजन के रिटायरमेंट का सहारा बन सकती है यह स्कीम

भारत का हर वेतन भोगी रिटायरमेंट के बाद अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए ब्याज आय पर निर्भर हो जाते हैं. यह ऐसा समय है, जिसमें सीनियर सिटीजंस की ब्याज आय अवश्य ही प्रभावित हो रही होगी. आरबीआई द्वारा मार्च महीने में रेपो रेट में 0.75 फीसद की कटौती कर देने के बाद बैंकों ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर ब्याज दरों को घटा दिया है. वहीं, इक्विटी में निवेश करने वाले लोगों को कोरोना वायरस प्रकोप के चलते अवश्य ही कम रिटर्न से संतोष करना पड़ रहा होगा. ऐसे में आज हम आपको कुछ ऐसी योजनाओं के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां निवेश कर सीनियर सिटीजंस अच्छा रिटर्न प्राप्त कर सकते हैं. 

RIL को एक साल में हुआ 40 हज़ार करोड़ का प्रॉफिट, फिर भी वेतन कटौती से बचाएगी 600 करोड़

सीनियर सिटीजंस सेविंग स्कीम : आपकी जानकारी के लिए बता दे कि स्मॉल सेविंग स्कीम्स की ब्याज दरों में बड़ी कटौती के बावजूद सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम अभी भी अपने ग्राहकों से 7.45 फीसद की ब्याज दर की पेशकश कर रही है. योजना में यह ब्याज दर अप्रैल से जून तिमाही के लिए है. यह ब्याज दर बाजार में सिनीयर सिटीजंस के लिए उपलब्ध फिक्स्ड रिटर्न स्कीम्स की तुलना में काफी बेहतर है. कोई भी सीनियर सिटीजन इस योजना में 1,000 के गुणकों में अधिकतम 15 लाख रुपये निवेश कर सकता है. इस योजना में ब्याज का भुगतान प्रत्येक तिमाही में होता है. इसलिए इसे नियमित आय के रुप में उपयोग लिया जा सकता है. यह अकाउंट पांच साल में मैच्योर होता है.

ट्रेन और फ्लाइट में यात्रा के लिए अनिवार्य हो सकता है Aarogya Setu ऐप


पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम : इसके अलावा जो लोग नियमित आय चाहते हैं, उनके लिए यह स्कीम काफी बेहतर है. यह स्कीम इस समय 6.60 फीसद ब्याज दर की पेशकश कर रही है. इस योजना में सिंगल अकाउंट में न्यूनतम 1,000 रुपये और अधिकतम 4.5 लाख रुपये निवेश किये जा सकते हैं. वहीं, ज्वाइंट अकाउंट में अधिकतम 9 लाख रुपये निवेश किये जा सकते हैं. इस योजना में मैच्योरिटी की अवधि पांच साल है, लेकिन प्री-मैच्योर निकासी का विकल्प एक साल बाद मिल जाता है.

लगभग पांच सौ करोड़ का प्रदेश का व्यापार प्रभावित

ग्रीन और ऑरेंज जोन में मिली आने-जाने की छूट, पेट्रोल-डीजल के दाम जानना हुआ जरुरी

Lockdown :ट्रेन से जा रहे मजदूरों को नहीं खरीदना होगा टिकट, राज्य सरकार से पैसे वसूलेगा रेलवे

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -