'PM जा सकते हैं तो मैं क्यों नहीं', विदेश जाने से रोका तो फूटा CM ममता का गुस्सा

कोलकाता: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इटली (रोम) में आयोजित होने वाले वर्ल्ड 'पीस कॉन्फ्रेंस' में हिस्सा लेने के लिए केंद्र सरकार की तरफ से अनुमति नहीं दी गई। ऐसे में इस बात को लेकर अब तक विरोध जारी है, वहीं बीजेपी के अंदर से भी इसके विरोध में आवाज उठने लगी हैं। जी दरअसल बंगाल में बीजेपी नेता ने ममता को अनुमति नहीं दिए जाने पर सवाल उठाया है। जी दरअसल विदेश मंत्रालय (MEA) की तरफ से इटली की यात्रा रद्द करने के बाद बीजेपी नेता ने ममता बनर्जी के पक्ष में खुलेआम ट्वीट किया है। आप देख सकते हैं रिटायर्ड कर्नल दीप्तांघसू चौधरी विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए थे।

जी दरअसल ममता के पक्ष में ट्वीट करते हुए बीजेपी नेता ने लिखा है, 'एक "हिंदू प्रेमी" भारत सरकार रोम में सभी धर्मों के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में एक उदारवादी/उदार हिंदू महिला को शामिल होने की अनुमति कैसे नहीं दे सकती है? क्या यह उन लोगों में से सबसे कम ईर्ष्या, बदला या नैतिकता है जो लगातार लोकतंत्र की कसम खाते हैं और शपथ लेते हैं? क्या यीशु सही नहीं थे? हे प्रभु अज्ञानियों को क्षमा करें।' आप सभी को बता दें कि इससे पहले भारत सरकार की तरफ से ममता बनर्जी को रोम दौरे की इजाजत देने से मना कर दिए जाने के बाद मुख्यमंत्री ने केंद्र के फैसले को खासी नाराजगी जाहिर की है।

उन्होंने कहा कि, 'जर्मन चांसलर को बुलाया गया था। पोप बुलाया गया था, मुस्लिम होने के नाते इमाम को बुलाया गया था और मुझे हिंदू के तौर पर बुलाया गया था। आप ऐसे तो हिंदू धर्म की बात करते हो फिर यहां क्या दिक्कत है? वजह सिर्फ यही है कि ये लोग मुझसे बहुत जलते हैं और जलन की वजह से मुझे नहीं जाने दिया गया।'

इसके अलावा ममता बनर्जी ने नाराजगी जताते हुए यह भी कहा कि, ''पीस कॉन्फ्रेंस' में हिस्सा लेने के लिए मैंने भारत सरकार से दो महीने पहले ही अनुमति मांगी थी। इटली सरकार ने मुझे सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए विशेष निमंत्रण भेजा था। लेकिन आज केंद्र सरकार की तरफ से पत्र भेजा गया, जिसमें कहा गया है कि एक मुख्यमंत्री के लिए वहां जाना ठीक नहीं है। WHO ने कोवैक्सीन को मंजूरी दी है। मैं पूछती हूं फिर पीएम कैसे अमेरिका चले गए। आपने मुझे रोम में भारत का प्रतिनिधित्व करने क्यों नहीं दिया? आप हर बार ऐसा ही करते हो। आखिर मुख्यमंत्री को ही बाहर जाने की इजाजात क्यों नहीं मिलती?'

आज है षष्ठी का श्राद्ध, जानिए क्या करें और क्या न करें?

आज दस्तक देगा चक्रवाती तूफान 'गुलाब', आंध्र प्रदेश और ओडिशा के लिए चेतावनी जारी

ख़त्म हुआ इंतज़ार।।। महराष्ट्र में 22 अक्टूबर से खुल जाएंगे सिनेमाघर और नाट्यगृह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -