क्या फ्यूल इंजेक्शन बढ़ाता है गाड़ियों का माइलेज

क्या फ्यूल इंजेक्शन बढ़ाता है गाड़ियों का माइलेज

पहले से ही फ्यूल इंजेक्शन वाली बाइक्स भारत में  मौजूद हैं पहला फ्यूल इंजेक्टर स्कूटर अभी हाल ही में हीरो ने भारत मे मेस्ट्रो 125 के नाम से लांच किया है. लेकिन ज्यादा कीमत होने की वजह से काफी लोग इन्हें खरीदना पसंद नहीं करते. यही वजह से की ऑटो कंपनियां भी इस तरह से टेक्नोलॉजी से लैस वाहन नही बनाती, लेकिन कार्बोरेटर वाले वाहन काफी पॉपुलर हैं क्योकिं ये सस्ते होते हैं. लेकिन शायद आपको मालूम नहीं होगा कि जिन गाड़ियों में फ्यूल इंजेक्शन तकनीक लगी होती है. वाहन की तुलना में उनकी परफॉरमेंस और माइलेज कार्बोरेटर बेहतर होती है. आगे जाने पूरी जानकारी विस्तार से 

Honda Motors की बाइक 999 रु में लाएं घर

उसकी मात्रा को नियंत्रित मल्टी फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम फ्यूल भरते समय करता है, इसमें हर सिलेंडर में फ्यूल की सप्लाई की लिए कई इंजेक्टर लगाए जाते हैं. इसमें D-MPFi और i-MPFi. D-MPFi दो प्रकार के होते है. हवा को लेकर ECU (इलेक्ट्रोनिक कंट्रोल यूनिट) को भेजता है, इसके बाद इंजेक्टर से जुड़ा RP सेंसर भी ECU को सिग्नल देता है. बाद में ECU इंजेक्टर को गैसोलीन को इंजेक्ट करने के लिए सिग्नल देता है. इसे ऑटोमोबाइल की एक शानदार टेक्नोलॉजी में शामिल किया गया है. इसमें हर सिलिंडर को बराबर मात्रा मे फ्यूल मिलता है. जिससे इंजन ज्यादा समय तक चलता है. और नतीजा आपको मिलती है गाड़ी प्रदूषण भी कम बेहतर माइलेज साथ फैलाती है. जिस वजह से वातावरण भी दुषित नही होता है.

इन बाइक्स और स्कूटर्स को खरीदे 50,000 रु कम में

आपकी गाड़ी ज्यादा से ज्यादा माइलेज दे तो सबसे पहले अपनी गाड़ी की रफ़्तार 40 से 50 kmph ही रखें. कोशिश कीजिये हफ्ते में 3 बार टायर्स में हवा की जांच करें. ऐसे रास्तों से जाने से बचें जहां अक्सर जाम लगा रहता है, खाली रूट जानने के लिए आप मैप का इस्तेमाल कर सकते हैं. बिना वजह क्लच का प्रयोग न करें. इस प्रयोग से आपका वाहन भी सुरक्षित रहेगा.

इस सुजुकी बाइक की लॉन्च से पहले तस्वीर लीक

Suzuki Gixxer SF 250 से Honda CBR 250R कितनी है अलग, जानिए स्पेसिफिकेशन

OnePlus 7 Pro की कीमत से कम में आ सकती है ये बाइक्स