चीन में होने वाली बेल्ट एंड रोड फोरम की बैठक में हिस्सा नहीं लेगा भारत

Apr 08 2019 08:54 AM
चीन में होने वाली बेल्ट एंड रोड फोरम की बैठक में हिस्सा नहीं लेगा भारत

नई दिल्ली : भारत ने चीन के उस न्योते को ठुकरा दिया है जिसमें उसने बेल्ट एंड रोड फोरम की इस महीने होने वाली दूसरी बैठक में शामिल होने के लिए भारत को आधिकारिक निमंत्रण भेजा था। भारत ने इससे पहले 2017 में हुई पहली बैठक का भी बहिष्कार किया था। भारत का इसे लेकर साफ कहना है कि चीन की यह योजना उसकी संप्रभुता का उल्लंघन करती है। पाकिस्तान के साथ मिलकर चीन ने चीन-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर (सीपीईसी) बनाया है जो विवादित गिलगित-बलिस्तान क्षेत्र से होकर गुजरती है।

आतंक के खिलाफ इराक को बड़ी सफलता, ISIS के प्रमुख नेता को किया ढेर

चीन को थी ऐसी उम्मीद 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार चीन को उम्मीद थी कि भारत बीआरआई को लेकर अपने फैसले पर पुनर्विचार करेगा और इसमें हिस्सा लेगा। पिछले साल दोनों देशों के संबंधों में आए बदलाव के बाद उसे उम्मीद थी कि भारत इस बार बैठक में शामिल जरूर होगा। अप्रैल 2018 को वुहान में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अनौपचारिक बैठक की थी। जिससे लग रहा था कि भारत बैठक में अपना प्रतिनिधि भेजेगा। 

पाकिस्तान बोला, इस महीने फिर हमला करेगा भारत, तारीख भी बताई

जानकारी के मुताबिक बैठक में हिस्सा लेने के लिए चीनी अधिकारियों ने विदेश मंत्रालय को पिछले महीने निमंत्रण भेजा था लेकिन भारत ने सीपीईसी को लेकर जारी अपनी चिंता को फिर दोहराया। माना जा रहा है कि बीजिंग स्थित भारतीय दूतावास से पर्यवेक्षक के तौर पर भी कोई इस कार्यक्रम में हिस्सा नहीं लेगा।

World Health Day : स्वास्थ्य दिवस पर जानें किस तरह रखें खुद को स्वस्थ

किसी फाइव स्टार होटल से कम नहीं है ये जेल, जानिए क्या है खास

हर व्यक्ति को मिले स्वास्थ्य लाभ, इसी उद्देश्य से मनाया जाता है 'विश्व स्वास्थ्य दिवस'