इतने दर्शकों को मैदान में देखकर हैरान रह गए थे बेल्जियम के कोच

बेल्जियम टीम के कोच जेरान ने कहा है कि जिस तरह स्टेडियम में माहौल था वह वाकई हम लोगों के लिए अद्भुत था। हमारी टीम ने कभी इस तरह के माहौल में हॉकी नहीं खेली। टीम इंडिया अच्छा खेली, लेकिन इसके पीछे दर्शकों का जबर्दस्त समर्थन था। लखनऊ में हॉकी का माहौल देखकर बहुत खुशी हुई। भारत को वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाने वाले गुरजंट सिंह ने कहा कि फाइनल में किया गया गोल उन्हें ज़िन्दगी भर याद रहेगा।

उन्होंने कहा कि मैं फाइनल में बिना किसी दबाव के उतरा था और कोच ने भी यही कहा था कि इसे खास मैच नहीं आम मैच की तरह लेना। पहले गोल के बारे में गुरजंट ने कहा कि हाफ से बॉल मेरे पास आई थी। मैंने रिवर्स शॉट लगाने का फैसला और गोल हो गया। उन्होंने कहा कि यह बिल्कुल सपना सच होने जैसा है। टीम के कोच हरेंद्र सिंह निश्चिन्त थे की वर्ल्ड कप भारत ही जीतेगा।

उन्होंने कहा कि मुझे अपने खिलाड़ियों पर भरोसा था और उन्होंने मैदान पर अपना सब कुछ झोंककर देश का मान बढ़ाया। वहीँ टीम के कप्तान हरजीत सिंह ने कहा कि चैंपियन टीम का हिस्सा बनने के लिए हम तीन साल से एक साथ थे। सबने कड़ी मेहनत की और जिसका नतीजा रहा कि हम तिरंगे के साथ खड़े थे। कोच का शुक्रिया जिनकी कोचिंग से हम लोग यहां तक पहुंचे हैं।

'क्रिकेट की नई फ़ायर, करुण नायर' 

टीम इंडिया की राह हुई आसान NO 1 बनने के लिए 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -