हिन्दू-मुस्लिम सांप्रदायिक सौहार्द बढ़ाने के लिए BJP लीडर दे रहा बीफ पार्टी

Sep 13 2015 12:12 PM
हिन्दू-मुस्लिम सांप्रदायिक सौहार्द बढ़ाने के लिए BJP लीडर दे रहा बीफ पार्टी

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर राज्य में उच्च न्यायालय द्वारा बीफ पर बैन लगा दिया गया है लेकिन यहां अलगाववादियों द्वारा लगातार विरोध किया जा रहा है। अलगाववादियों की मांग है कि बीफ को प्रतिबंधित नहीं किया जाना चाहिए। दूसरी ओर गौ-हत्या का विरोध करने वाले हिंदूवादी संगठनों की हिमाकत करने वाली भाजपा के ही नेता बीफ पार्टी देने जा रहे हैं। हालांकि इस नेता ने कहा है कि यह उनका व्यक्तिगत मसला है इसके लिए उन्हें पार्टी से अनुमति लेने की जरूरत नहीं है।

इस दौरान दावत देने वाले खुर्शीद अहमद मलिक ने कहा कि वे हिंदू-मुस्लिम समुदाय के बीच विश्वास बढ़ाने के लिए यह पार्टी दे रहे हैं। इसमें हिंदूओं के लिए शाकाहारी भोजन रहेगा। मिली जानकारी के अनुसार उन्होंने कहा कि बीफ पार्टी में हिंदू और मुस्लिम दोनों ही शामिल होंगे। हिंदूओं के लिए शाकाहारी भोजन रखा गया है।

दूसरी ओर मुसलमानों के लिए बीफ की दावत रहेगी। मामले में मलिक द्वारा कहा गया है कि बीफ पार्टी के माध्यम से दोनों ही समुदायों में भाईचारा और सांप्रदायिक सौहार्द बढ़ाया जा सकता है। मलिक द्वारा इस मामले में पार्टी की अनुमति को लेकर कहा गया कि यह उनका धार्मिक मसला है इसके लिए उन्हें पार्टी से अनुमति की आवश्यकता नहीं हे। माना जा रहा है कि यह उच्च न्यायालय के आदेश का उल्लंघन है।