बीड़ लोकसभा सीट: एनसीपी और भाजपा के बीच होगा संग्राम, मैदान में प्रीतम मुंडे

बीड़ लोकसभा सीट: एनसीपी और भाजपा के बीच होगा संग्राम, मैदान में प्रीतम मुंडे

मुंबई: 2019 लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के लिए महाराष्‍ट्र की 10 लोकसभा सीटों पर 18 अप्रैल को वोटिंग होनी है। इन 10 लोकसभा सीटों में से बीड लोकसभा सीट भी विशेष है। इस लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और नेशनल कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के बीच चुनावी संग्राम होने के आसार हैं। भाजपा ने इस सीट से प्रीतम गोपीनाथ राव मुंडे को चुनावी रण में उतारा है। वे भाजपा के दिवंगत नेता गोपीनाथ मुंडे की बेटी और बीड से वर्तमान सांसद हैं। इस बार एनसीपी ने बजरंग मनोहर सोनवणे को उम्मीदवार बनाया है।

महाराष्‍ट्र की बीड लोकसभा सीट के अंतर्गत 6 विधानसभा सीटें आती हैं। इनमें गेवराई, मजलगांव, बीड, अष्‍टी, केज और पर्ली शामिल हैं। यहां 1952 में हुए लोकसभा चुनाव में पीपुल्‍स डेमोक्रेटिक फ्रंट के रामचंदर गोविंद परंजपे ने जीत हासिल की थी। भाजपा के दिग्गज नेता गोपीनाथ मुंडे ने यहां से 2009 में चुनाव में जीत हासिल की थी। 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में वह दूसरी बार यहां से जीतकर संसद पहुंचे थे। किन्तु चुनाव के कुछ दिन बाद ही उनकी एक सड़क हादसे में मृत्यु हो गई थी। इसके बाद खाली हुई इस सीट पर भाजपा ने उनकी बेटी प्रीतम मुंडे को चुनावी रण में उतारा। 

भाजपा के दिग्गज नेता गोपीनाथ मुंडे के देहांत के बाद उनकी बेटी प्रीतम मुंडे को इस संसदीय क्षेत्र में वोटरों को भारी समर्थन मिला। 2014 के उपचुनाव में उन्‍हें 9.22 लाख वोट प्राप्त हुए थे। वहीं कांग्रेस की तरफ से चुनाव मैदान में उतरे अशोकराव पाटिल को 2.26 लाख वोट प्राप्त हुए थे। इन सबको देखते हुए इस बार के चुनाव का मुकाबला काफी दिलचस्प नज़र आ रहा है।

खबरें और भी:-

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लखनऊ लोकसभा सीट से भरा नामांकन

पाकिस्तान में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, पांच आतंकी ढेर

वेल्लूर लोकसभा सीट पर रद्द नहीं होंगे चुनाव, आयोग को नहीं मिले निर्देश