सेक्स करने से इंकार करने पर होती है पिटाई : रिपोर्ट

Feb 12 2016 08:14 AM
सेक्स करने से इंकार करने पर होती है पिटाई : रिपोर्ट

इस्लामाबाद : न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार 2011 में महिलाओं की सुरक्षा के लिहाज से विश्व में पाकिस्तान सबसे  खतरनाक देशों की सूची तीसरे स्थान पर है वही इसी रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान में 90 प्रतिशत महिलाएं घरेलु हिंसा का शिकार बनी हुई है। देश की सांस्कृतिक कबीलाई व धार्मिक परम्पराओ आदि को इन सब को बढ़ाने का कारण बताया गया है। 

हाल ही में 'यूनाइटेड नेशन्स पॉपुलेशन फंड द्वारा एक रिपोर्ट जारी की गई जिसमे पाकिस्तान की टीनेजर गर्ल्स ने खुलकर अपनी समस्या बयाँ की  पाकिस्तान की इन किशोरियों ने अपनी सबसे बड़ी समस्या यह बताई की यदि किसी दिन वे अपने पति से सेक्स करने का मना कर दे तो उनके पति उनकी खूब पिटाई करते करते है। 

यह बात सिर्फ एक या दो लडकियों ने नहीं बल्कि पुरे पाकिस्तान की कुल 53% टीनेजर गर्ल्स ने कही साथ ही उनका मानना की सेक्स से पत्नी द्वारा मना किया गया तो उन्हें पति द्वारा पीटना पाकिस्तान में जायज है सर्वे से पता चला कि पाकिस्तान में 30%से ज्यादा लड़कियां फिजिकल या सेक्सुअल वॉयलेंस (यौन हिंसा) का शिकार हुई हैं।

इस रिपोर्ट से एक और चौकाने वाली बात सामने सामने आई है जिसमे यह पता चलता है की पाकिस्तान में 10 से 19 साल के 7000 बच्चे एचआईवी से पीड़ित  है साथ ही यह भी कहा गया की यदि किशोर लोगो की तादाद देखे तो पाकिस्तान विश्व के उन देशो में एक है जहा सबसे ज्यादा किशोर वर्ग या टीनेजर की सबसे ज्यादा संख्या है और एड्स से पीडित लोगो में पाकिस्तान सबसे आगे निकल सकता है जिसका जिम्मेदार वहां का लोअर एजुकेशनए अनइम्प्लॉइमेंट और फैमिली बैकग्राउंड को मना जा रहा है।

पाक की यूथ पीढ़ी को एड्स की रोकथाम करने के तरीके नहीं मालूम 

इस रिपोर्ट में यह भी पता चला है कि यहाँ के युवा या टीनेजर को एड्स से बचने के तरीके तथा इस बीमारी के बारे में जानकारी ही नहीं है साथ ही वहां के 15 से 24 साल के लोगो को यही नहीं पता की काण्डम से भी एड्स से बचा जा सकता है यहाँ की माहिलाएं भी इस मामले में बिल्कुल देहाती है।