बिन्स खाए मधुमेह से छुटकारा पाये

यदि आप मधुमेह की बिमारी से परेशान है और गोली दवाइयों का सेवन कर कर थक चुके है तो आप एक घरेलु नुस्खा भी अपना सकते है. इस नुस्खे का उपयोग कर आपको फायदा अवश्य मिलेगा. 

बीन्स का 'ग्लाइसेमिक इन्डेक्स' कम होता है इसका अभिप्राय यह है कि जिस तरह से अन्य भोज्य पदार्थों से रक्त में शक्कर का स्तर बढ़ जाता है, बीन्स खाने के बाद ऐसा नहीं होता. बीन्स में मौजूद फाइबर रक्त में शक्कर का स्तर बनाए रखने में मदद करते हैं और बीन्स की इस ख़ासियत की वजह से मधुमेह के रोगियों को बीन्स खाने की सलाह देते हैं.

बीन्स का ज़ूस शरीर में इन्सुलिन के उत्पादन को बढ़ावा देता है. इस वजह से जिन्हें मधुमेह है या मधुमेह का खतरा है उनके लिये बीन्स खाना बहुत लाभदायक है. बीन्स का ज़ूस उत्तेजक (स्टिम्युलेंट) होता है इसकी इसी प्रकृति के कारण यह उन लोगों को बहुत फ़ायदा करता है जो लंबी बीमारी से जूझ रहे हैं या जो बीमारी पश्चात पूर्ण स्वास्थ्य लाभ चाहते हैं. बीन्स का १५० मिली ज़ूस हर रोज़ पीना आपके इस उद्देश्य को भली-भाँति पूरा कर देगा.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -