BCCI ने आईपीएल आयोजन पर की चर्चा तो टीम के मालिक से मिला यह जवाब

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने शनिवार को मुंबई के बोर्ड मुख्यालय में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) फ्रेंचाइजी मालिकों से नॉवेल कोरोना वायरस (COVID -19) के प्रकोप और आगामी सीजन पर इसके प्रभाव पर चर्चा की. बैठक के बाद बीसीसीआई के सचिव जय शाह ने एक प्रेस रिलीज जारी कर बताया कि सभी टीमों और बोर्ड को फैंस और खिलाड़ियों की चिंता है. BCCI और IPL टीम मालिकों के बीच हुई बैठक में टूर्नामेंट के इस सीजन को छोटा करने पर चर्चा हुई. BCCI के सूत्रों के मुताबिक इस बैठक के दौरान छह-सात विकल्पों पर चर्चा हुई जिसमें छोटे टूर्नामेंट का विकल्प भी शामिल था.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार मुंबई में हुई बैठक में दो से तीन राज्यों में ही IPL के मैच का आयोजन करने पर चर्चा हुई ताकि खिलाड़ियों को ज्यादा यात्रा ना करने पड़े. साथ ही IPL मैचों में कटौती पर भी चर्चा हुई. इस बैठक में कहा गया कि जरूरत पड़ी तो विदेशी खिलाड़ियों के बिना ही टूर्नामेंट का आयोजन किया जा सकता है. सभी IPL फ्रेंचाइजी के साथ BCCI ने प्राथमिकता के रूप में प्रशंसकों, एथलीटों और कर्मचारियों की सुरक्षा और कल्याण को ध्यान में रखते हुए बीसीसीआई के रुख को दोहराया है.

जानकारी के लिए हम बता दें कि बोर्ड सार्वजनिक स्वास्थ्य के सर्वोत्तम हित में आगे के निर्णय लेने के लिए भारत सरकार और राज्य सरकारों व अन्य राज्य नियामक संस्थाओं के साथ मिलकर निगरानी और काम करना जारी रखेगा. BCCI ने कहा हमारे सभी सहयोगी सभी के लिए एक सुरक्षित और स्वस्थ वातावरण प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं. मालूम हो कि बोर्ड ने देश में कोरोना वायरस के खतरें को देखते हुए IPL को 15 अप्रैल  2020 तक के लिए टाल दिया है. IPL 2020 का आगाज 29 मार्च 2020 से होना था, लेकिन कोरोनो वायरस और विदेशियों के वीजा पर प्रतिबंध होने के कारण इसे स्थगित कर दिया गया है.

आखिर क्यों बिना दर्शकों के होंगे आई-लीग मैच?

साइना नेहवाल ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप से बाहर

कम उम्र में दूसरे ISL खिताब के करीब पहुंच गए है चेन्नइयन FC के अनिरुद्ध थापा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -