भारतीय मूल के तनिष्क को ओबामा ने दी शुभकामनाएं

वाशिंगटन ​: भारत के विद्यार्थियों को लेकर राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा था कि भारतीय मूल के विद्यार्थी इतने कुशाग्र होते हैं कि आने वाले समय में गणित, अंग्रेजी और विज्ञान विषय पर ये अमेरिकी विद्यार्थियों को पीछे छोड़ सकते हैं। हाल ही में यह बात सही साबित होती नज़र आ रही है। दरअसल महज 11 वर्ष की आयु में ही तनिष्क नामक भारतीय मूल के विद्यार्थी ने सबसे कम आयु में ग्रेजुएशन कर लिया है। तनिष्क की इस उपलब्धि को बहुत महत्वपूर्ण और बेहद आवश्यक माना जा रहा है।

दरअसल यह छात्र कैलिफोर्निया में सैक्रामेंट में निवास करता  है। यह यूएस का सबसे युवा हाईस्कूल ग्रेजुएट है। इसने वर्ष 2015 में मैथ्स, साइंस और फॉरेन लैंग्वेज स्टडीज में तीन एसोसिएट डिग्री के ही साथ अमेरिकन रिवर कॉलेज से ग्रेजुएशन किया है। तनिष्क को राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी शुभकामनाऐं दी हैं। 12 वर्ष के तनिष्क को हाल ही में दो प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी कैंपस से एमडी के लिए चयनित किया गया।

उसे यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया डेविस और यएस सांता क्रूज हेतु रेजेंट्स स्कॉलरशिप प्रदान की गई। केरल मूल के तनिष्क ने यह तय नहीं किया है कि वे किस विश्वविद्यालय में एडमिशन लेंगे। उनके पिता बिजोउ अब्राहम एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं और मां ताजी अब्राहम पशु चिकित्सक हैं।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -