10 की हत्या, 23 का बलात्कार, 17 अब भी लापता..., बांग्लादेश में हिन्दुओं पर मुस्लिम कट्टरपंथियों का हमला

ढाका: हिन्दुओं के त्यौहार दुर्गा पूजा के दौरान बांग्लादेश में नवरात्री पंडालों पर हमले का सिलसिला शुरू हुआ और हिन्दू देवी-देवताओं की मूर्तियों को तोड़ा जाने लगा, पंडाल ध्वस्त कर दिए गए, फिर मंदिरों पर हमला किया गया। इसके बाद मुस्लिम भीड़ ने हिन्दुओं की हत्याओं और उनकी बहन-बेटियों बलात्कार का घिनोना सिलसिला शुरू कर दिया। अब इस मुद्दे पर बांग्लादेश के गृह मंत्री असदुज़्ज़मान ने कहा है कि दुर्गा पूजा पंडालों पर हुए हमले पूर्व नियोजित थे।

 

उन्होंने कहा है कि पहले से ही इन हमलों की साजिश रच ली गई थी, ताकि देश की सांप्रदायिक शांति को तोड़ा जा सके। पिछले एक हफ्ते से जारी हिंसा के संबंध में वहाँ की पुलिस ने 4000 आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया है। बांग्लादेश के गृह मंत्री ने कहा कि कॉमिला, रामु और नसीरनगर में सांप्रदायिक तनाव फैलाने का प्रयास किया गया है। हालाँकि, हमलों का सिलसिला अब भी जारी है। भाजपा ने भी कहा है कि अल्पसंख्यकों के खिलाफ इस तरह सुनियोजित तरीके से हिंसा व क्रूरता दर्शाती है कि पश्चिम बंगाल में CAA और NRC लागू करना कितना जरुरी है। बांग्लादेश के गृह मंत्री ने सबूतों के आधार पर सख्त सज़ा देने का आश्वासन दिया है। बांग्लादेश में कई हिन्दुओं को बेघर होना पड़ा है, गाँव के गाँव को आग के हवाले कर दिया गया। 

कहा जा रहा है कि ताज़ा हिंसा में एक दर्जन से अधिक लोग मारे गए हैं। चाँदपुर के हाजीगंज में माणिक साहा का क़त्ल कर दिया गया। नोआखली के चौमोहनी में पुजारी जतन साहा, वहीं के इस्कॉन मंदिर में निमाई कृष्ण के अतिरिक्त एक अन्य पुजारी, राम ठाकुर आश्रम के 3 पुजारी, कॉमिला में 26 वर्षीय प्रशांत दास और कॉक्स बाजार के रामु दुर्गा मंदिर में एक व्यक्ति को मार डाला गया। ‘वर्ल्ड हिन्दू फेडरेशन’ (WHF) के बांग्लादेश चैप्टर द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, अब तक 17 हिन्दू गायब हैं। WHF के बांग्लादेश चैप्टर ने ये भी बताया है कि कुल 23 हिन्दू महिलाओं/लड़कियों के साथ अब तक दुष्कर्म की वारदातें सामने आ चुकी है। 

ISI प्रमुख को लेकर बीवी के टोटके पर अड़े इमरान, आर्मी चीफ बाजवा ने लगाईं लताड़

T20 वर्ल्ड कप: भारत-पाक मैच को लेकर तेज हुआ विरोध.. अब गिरिराज सिंह ने दिया बड़ा बयान

’डिलीवरी बॉय’ बना T20 वर्ल्ड कप का स्टार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -