31 दिसंबर तक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर जारी रहेगा बैन, DGCA ने जारी किए आदेश

मुंबई: देश के विमानन सुरक्षा नियामक DGCA ने गुरुवार को अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री उड़ानों पर लगे बैन को 31 दिसंबर तक बढ़ा दिया है। एक आधिकारिक परिपत्र के अनुसार, यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय मालवहन संचालन और नागर विमानन महानिदेशालय (DGCA) द्वारा मंजूरी प्राप्त विशेष उड़ानों पर लागू नहीं होगा।

DGCA ने अपने परिपत्र में कहा कि, 'दिनांक 26-6-2020 के परिपत्र में आंशिक संशोधन के तहत सक्षम प्राधिकारी ने भारत से/ भारत के लिए अनुसूचित अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री सेवाओं के निलंबन के बारे में जारी किए गए परिपत्र की वैधता को 31 दिसंबर 2020, 2359 बजे तक बढ़ा दिया है।' हालांकि, कुछ रुट्स पर सक्षम प्राधिकारी द्वारा अंतरराष्ट्रीय अनुसूचित उड़ानों की इजाजत दी जा सकती है। बता दें कि कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए भारत ने 23 मार्च से 30 नवंबर तक अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक यात्री उड़ानों को निरस्त कर दिया था।

आपको बता दें कि कोरोना महामारी के कारण भारत में अंतरराष्ट्रीय यात्री उड़ान सेवाएं 23 मार्च से ठप्प हैं। मई महीने से वंदे भारत मिशन के तहत और जुलाई से द्विपक्षीय एयर बबल के तहत कुछ देशों के लिए विशेष अंतरराष्ट्रीय उड़ान सेवाओं को बहाल किया। भारत ने एयर बबल के तहत लगभग 18 देशों के साथ करार किया। देश में घरेलू उड़ान सेवा दो महीने तक बंद रहने के बाद 25 मई से दोबारा शुरू किया गया था।

एचएमडी ग्लोबल निर्यात के लिए भारत का लाभ उठाने पर कर रहा है विचार

ब्रिटिश स्टॉक में गिरावट के कारण निवेशकों को पोस्ट-लॉकडाउन प्रतिबंधों के अपडेट का है इंतजार

ग्लेनमार्क ने 3 वर्ष के लिए डॉव जोन्स SEM इंडेक्स में स्थान किया हासिल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -