मैच फिक्सिंग में दो बैडमिंटन खिलाड़ियों पर लगा प्रतिबंध

कुआलालम्पुर : विश्व बैडमिंटन महासंघ (बी डब्ल्यू एफ ) ने मैच फिक्सिंग के आरोप में मलेशिया के दो खिलाड़ियों को भ्रष्टाचार और मैच फिक्सिंग का दोषी पाए जाने पर 20 और 15 वर्ष का प्रतिबंध लगा दिया है.

इस बारे में विश्व बैडमिंटन महासंघ ने कहा कि पूर्व विश्व चैंपियन 25 वर्षीय जुल्फादली जुल्किफली को 20 वर्ष के लिये प्रतिबंधित कर उस पर 25 हजार डॉलर का जुर्माना भी लगाया गया है. इसी तरह 31 वर्षीय तान चुन सीयांग पर भी 15 वर्ष का प्रतिबंध और 15 हजार डालर का जुर्माना लगाया गया है. इन दोनों को सट्टेबाजी, जुआ और अनियमित मैच परिणाम से संबंधित बीडब्ल्यूएफ आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाए जाने पर यह कार्रवाई की गई.

आपको बता दें कि बीडब्ल्यूएफ पैनल ने फरवरी में सिंगापुर में इस मामले की हुई सुनवाई में पाया कि ये दोनों खिलाड़ी 2013 से कई महत्वपूर्ण टूर्नामेंट में भ्रष्टाचार में शामिल थे. बीडब्ल्यूएफ के अनुसार जुल्फादली लंबे समय तक इसमें लिप्त रहा और उसने चार मैचों के परिणाम को भी प्रभावित किया .मलेशियाई बैडमिंटन संघ के अध्यक्ष नोर्जा जकारिया ने इसे मलेशियाई बैडमिंटन के लिये दुखद और आहत करने वाला दिन बताया. उन्होंने कहा हमारे दिलों के इतना करीब रहने वाले इस खेल पर मैच फिक्सिंग के दाग लग गये. इन दोनों खिलाड़ियों का प्रतिबंध 12 जनवरी से शुरू होगा.

यह भी देखें

BCCI ने नहीं मानी द्रविड़ की बात

शमकिर सुपर ग्रांड मास्टर टूर्नामेंट कार्लसन के नाम

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -