ऐसी मंडी जहां बिक रहे 'सलमान' और 'शाहरुख'

लखनऊ : मुस्लिम समाज का विशेष त्यौहार बकरीद के मौके पर बकरा मंडी में 'सलमान खान' और 'शाहरुख खान' की भी बोली लगाई जा रही है. दरअसल बकरा मालिकों ने अपने बकरों के नाम सलमान खान और शाहरुख खान रखा हैं। मालिकों का अपने बकरो को यह नाम देने का मतलब यह है की ऐसा करने से उनके बकरों की और जनता का आकर्षण बढ़ेगा. दोनों खानो के बीच की यह प्रतिद्वंद्विता ईद के मौके पर बकरा मंडी में भी देखी जा रही है. जो बकरे ज्यादा ही हट्टे कट्टे बकरे है उनका नाम सलमान है तो जिसका रंग कम है यानी जो काला है उसका नाम है एसआरके (शाहरुख खान) रखा गया है.

उत्तर प्रदेश की राजधानी के आलमबाग, निशातगंज, इंदिरा नगर में मुंशी पुलिया के पास जामा मस्जिद रोड पर बकरों की मंडी में ऐसे 'सेलेब्रिटी बकरे' काफी डिमांड में हैं. इनकी कीमत 15000 से लेकर एक लाख रुपये तक है. सिर्फ बॉलीवुड के कलाकारों के नाम पर ही बकरों के नाम नहीं हैं. बकरा मालिकों की पसंद कई खिलाड़ी भी हैं. मंडी में एक मालिक ऐसा भी मिला जिसने अपने बकरे का नाम टेनिस खिलाडी 'सानिया' के नाम पर रखा है. कई 'कलाकारों के नाम वाले बकरों' का मालिक साजिद पुराने शहर के नखास क्षेत्र का है. उसके एक बकरे का भार 125 KG है.

इस बकरे का नाम उसने फिल्म बरफी के नाम पर 'बरफी' रखा है. इस बकरे मालिक का कहना हे की इसने अपने बकरे को सुंदर दिखने के लिए बहुत मेहनत की है और उन्हें खाने में चना, मटर, शहद और बादाम खिलाए है. लेकिन, इन 'सेलेब्रिटी बकरों' से भी महंगे वो बकरे है जिनकी खालो पर कोई धार्मिक निशान जैसा कोई निशान नजर आता है. सादतगंज में एक बकरे की कीमत दो लाख रुपए है. इन बकरों के शरीर पर प्राकृतिक रूप से चांद-तारे जैसा निशान पाये जाते है. एक बकरे की खाल पर अल्लाह लिखा हुआ नजर आ रहा है जिसकी वजह से उसकी कीमत पांच लाख रुपये रखी गई है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -