बहरीन ओपन : भारतीय खिलाड़ियों ने कई और पदकों पर जमाया कब्ज़ा

मनामा : शहर में आयोजित बहरीन जूनियर एंड कैडेट ओपन टेबल टेनिस प्रतियोगिता में भारतीय खिलाड़ियों ने आठ और पदक अपने नाम कर लिए. इनमें दो स्वर्ण, तीन रजत और तीन कांस्य पदक शामिल हैं. भारत ने इस तरह कुल 12 पदकों के साथ प्रतियोगिता में अपने अभियान का समापन किया. भारत के लिए अंडर-15 में वर्ल्ड नंबर-4 पायस जैन ने लड़कों के सिंगल्स स्पर्धा के फाइनल में चेक गणराज्य के सिमोन बेलिक को 3-1 से हराकर स्वर्ण पदक जीता. 

ENG vs WI TEST : रूट के शानदार शतक की बदौलत मजबूत स्तिथि में इंग्लैंड

ऐसे रहे लीग के सभी मुकाबले 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार लड़कियों के कैडेट वर्ग में पांच युवा खिलाड़ियों ने क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. हालांकि इन पांच में से केवल दो ही सेमीफाइनल तक पहुंच सके.अनर्ज्ञया मंजूनाथ और यश्चिनी घोरपांडे की जोड़ी ने ग्रीस की मालामेटिना पापादिमीत्रियू और मिस्र की हाना गोदा को 3-0 से हराकर फाइनल में प्रवेश किया. सुहाना सैनी और स्वास्तिका घोष को क्रमश: मिनी कैडेट और जूनियर वर्ग में कांस्य पदक से ही संतोष करना पड़ा. 

गुवाहाटी में शुरू होने जा रही है सीनियर राष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप, ऐसा है कार्यक्रम

किसी की जीत तो किसी की हुई हार 

जानकारी के लिए बता दें अंडर-15 वर्ग में सुहाना को वर्ल्ड नंबर-42 हाना गोदा से सेमीफाइनल में हार का सामना करना पड़ा. वहीं, स्वास्तिका को रुस की क्रिस्टिना कजांतसेवा से शिकस्त खाकर कांस्य से संतोष करना पड़ा.डबल्स वर्ग में अनर्ज्ञया मंजूनाथ और सुहाना सैनी तथा मनुश्री पाटिल और स्वास्तिका घोष की जोड़ी ने लड़कियों की जूनियर वर्ग के फाइनल में अपनी जगह बनाई. फाइनल में मंजूनाथ और सुहाना की जोड़ी को क्रिस्टिना और ओल्गा विश्नियाकोवा की जोड़ी से पराजय झेलनी पड़ी. 

ईरानी कप : शेष भारत ने लिया टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला

आईसीसी टी-20 रैंकिंग में इन भारतीय खिलाडियों ने मारी बाजी

भारत के युवा बैडमिंटन खिलाड़ीयों को तैयार करेंगे मॉर्टन फ्रास्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -