'चांद मियां को पूजने की क्या जरूरत': बागेश्वर धाम के पंडित

भोपाल: अपने विवादित बयानों से चर्चाओं में रहने वाले कथावाचक और महाराज पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने हाल ही में एक बार फिर विवादित बयान दे डाला है। जी दरअसल जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती महाराज के मंदिरों में सांई की प्रतिमा का विरोध करते हुए उन्होंने कहा कि, 'जब सनातनी के पास पूजा करने के लिए 33 कोटि देवी देवता है, तो चांद मियां को पूजने की जरूरत क्या है? विश्व में सबसे ज्यादा पूज्य भगवान राम है वह विश्व के पिता हैं। जो उनका कोई नहीं, वह किसी का नहीं है।' जी दरसल परिवार में बागेश्वर धाम की गद्दी को लेकर चल रहे विवाद में धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा कि, 'देवेंद्र जी हमारे बड़े भाई हैं हम लोगों में कोई मतभेद नहीं है सिर्फ बेचारी मतभेद था हमें तो सिर्फ सेवा करना है घर-घर राम जी को पहुंचाना है हमारी किसी से कोई बुराई नहीं है उन्होंने कहा कि पूर्व में भी कई जातियां थी लेकिन जातिवाद नहीं था कृष्ण जी यादव थे। भगवान श्रीराम क्षत्रिय थे, लेकिन सब उन्हें पूजते थे। वाल्मीकि रैदास जी को पूजा जाता है आज सिर्फ जातिवाद है जो राजनेताओं ने फैलाया है।'

आप सभी को बता दें कि इसके पहले मध्यप्रदेश के बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने प्रवचन के दौरान हिंसक बयान देते हुए कहा था कि, 'कुछ दिन बाद हम भी बुल्डोजर खरीदने वाले हैं। पैसा नहीं है इतना वरना हम भी बुल्डोजर खरीदेंगे गांव के काज पर, सनातनियों महात्माओं पर संतों पर, भारतीय सनातनियों हिंदुओं पर पत्थर चलाएगा हम बुल्डोजर उसके घर पर चलाएंगे।'

इसके अलावा उन्होंने यह भी कहा था कि, 'हमारी प्रार्थनाएं हैं कि हिंदुओं जगो। जो तुम्हारे घर पर पत्थर फेंके, उसके घर जेसीबी लेकर चलो। क्योंकि भारत सनातनियों का है। अगर सनातनियों के देश में राम की यात्रा पर रामनवमी पर कोई पत्थर मारे बुजदिलों, कायरों फजग जाओ। सब हिंदुओं अपने हाथ में हथियार उठा लो और कह दो हम सब हिंदू एक हैं।'

खुद को गर्भवती समझ रही थी महिला, अल्ट्रासाउंड कराया तो उड़े डॉक्टर्स के होश

बात-बात में दोस्त ने छू लिया पत्नी का गाल, पति भड़का तो निकाला चाकू और...

पाकिस्तानी लड़के पर आया MP की लड़की का दिल, प्रेमी से मिलने को उठाया ये बड़ा कदम

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -