CM पर ही लगा सीटों की खरीद-फरोख्त का आरोप

रांची : झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री व झारखंड विकास मोर्चा के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने वीडियो और आॅडियो टेप जारी करते हुए आरोप लगाया कि 11 जून को राज्य की दो सीटों पर होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने स्वयं ही खरीद-फरोख्त की है। इन सीटों पर होने वाले चुनावों में विधायकों की खरीद-फरोख्त में रघुवरदास की भूमिका को लेकर आरोप लगे। बाबूलाल मरांडी ने रघुवर दास पर निशाना साधते हुए कहा कि रघुबर दास को अपने पद से इस्तीफा देना होगा।

बाबूलाल मरांडी ने आरोप लगाते हुए कहा कि बड़कागांव से कांग्रेस के पूर्व विधायक योगेंद्र साव से चर्चा का वीडियो और मुख्यमंत्री के सहयोगी और आईपीएस अधिकारी की योगेंद्र साव से हुई चर्चा को रिकाॅर्ड कर लिया गया था। अब इस चर्चा का आॅडियो टेप जारी कर दिया गया है। हालांकि इस मामले में यह बात भी सामने आई है कि टेप की सत्यता की जाॅंच होने के बाद ही कुछ स्पष्ट हो सकता है।

मगर टेप सामने आने के बाद झारखंड सरकार की मुश्किलें बढ़ गई हैं। मुख्यमंत्री योगेंद्र साव से चर्चा करने के साथ उनकी विधायक पत्नी निर्मला देवी का वोट भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के पक्ष में तोड़ने के आरोप सरकार पर लगे हैं। आॅडियो टेप में एडीजीपी अनुराग गुप्ता की आवाज़ भी सुनाई दे रही है।

जिसमें अनुराग गुप्ता कह रहे हैं कि सरकार तो तीन वर्ष बनी रहेगी। इतना ही नहीं अनुराग गुप्ता किसी को रघुबर सरकार का साथ देने के लिए कह रहे हैं। बाबूलाल मरांडी का कहना है कि उनके पास इस बात के सबूत हैं कि मुख्यमंत्री रघुबर यादव स्वयं ही विधायकों की खरीद फरोख्त में शामिल हैं।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -