Share:
एक-एक कर के बाबा के गुनाह हो रहे उजागर
एक-एक कर के बाबा के गुनाह हो रहे उजागर

चंडीगढ़ : बाबा राम रहीम की मुश्किलें हैं कि खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं. रेप केस के आरोप में 20 साल की सजा काट रहे बाबा राम रहीम की पोल एक-एक करके खुलती जा रही है. अब हाल ही में एक और खुलासा हुआ है. यह मामला है पासपोर्ट से जुड़े नियम का, मिली जानकारी के मुताबिक पासपोर्ट डिपार्टमेंट ने नियमो की धज्जियां उड़ाते हुए बाबा का, अम्बाला में मात्र 30 मिनिट में पासपोर्ट जारी कर दिया था.

यह मामला 2015 का है जब बाबा ने टोपी लगाकर पासपोर्ट के लिए अपनी फोटो खिचवाई थी. अब इसकी जांच विदेश मंत्रालय द्वारा की जा रही है. पासपोर्ट सम्बंधित नियम के हिसाब से कोई भी व्यक्ति टोपी पहनकर पासपोर्ट के लिए फोटो नहीं खिचवा सकता, अब ऐसे में बाबा पर पासपोर्ट एक्ट के तहत एक और केस दर्ज़ हो सकता है. 

राम रहीम के बारे में हरियाणा और पंचकूला पुलिस जांच में जुटी है जिसके तहत आये दिन नए-नए खुलासे होते जा रहे हैं. अब जब दोनों पुलिस ने मिलकर सच अभियान चलाया तो उन्हें पता चला कि बाबा का एक नहीं बल्कि दो पासपोर्ट हैं. एक पासपोर्ट 2015 में जारी हुआ था जिसमे बाबा ने टोपी लगा कर फोटो खिचवाया था और दूसरा 2017 में जारी किया गया था जिसमे बाबा ने टोपी नहीं लगायी. लेकिन जारी किये गए इस पासपोर्ट में बाबा ने अपना नाम संत गुरमीत राम रहीम सिंह इंसां लिखवा रखा है. अगर पासपोर्ट नियम की बात की जाए तो कोई भी व्यक्ति पासपोर्ट में अपने नाम के आगे संत, डॉक्टर, प्रोफेसर आदि नहीं लिख सकते. हालांकि इस पर बाबा ने सफाई देते हुए कहा कि अपनी फिल्म के प्रमोशन के लिए विदेश जाना था और उन्होंने पासपोर्ट जारी करने के लिए कोर्ट से परमिशन ली थी. और CBI कोर्ट ने भी कुछ समय के लिए पासपोर्ट जारी करने के आदेश दिए थे.

अब जानकारी सामने आ रही है कि जब 2015 में बाबा का पासपोर्ट जारी किया गया तब, विदेश मंत्रालय ने अपने सभी कर्मचारियों को सर्विस सेंटर खुलने के समय से 1 घंटा पहले ही बुला लिया था. अब विदेश मंत्रालय इस जांच में जुट गयी है कि जब सर्विस सेंटर खुलने का समय 9 बजे का है तो फिर पासपोर्ट जारी करने की एप्लीकेशन समय से पहले कैसे मंज़ूर हुई. सुबह 8 बजे सर्विस सेंटर खुला और सारे कर्मचारी वाहन मौजूद भी थे. बाबा के लाखों समर्थक भी उस समय सेंटर पर एकत्रित हुए थे.

58 दिन बाद सिरसा डेरे की रौनक लौटी

हनीप्रीत की कोर्ट में पेशी, विपासना को सरकारी गवाह बनाने की कोशिश

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के सच आ रहे सामने

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -