अखिलेश की बैठक में नहीं पहुंचे आज़म खान, क्या प्लान B पर कर रहे काम ?

लखनऊ: सवा दो साल के बाद जेल से रिहा हुए संवाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता और मौजूदा विधायक आजम खान पार्टी की बैठक में नहीं पहुंचे। यह बैठक सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के नेतृत्व में बुलाई गई थी, जिसमें सपा के तमाम MLA और MLC को शामिल होना था। ऐसे में आजम खान और उनके करीबी विधायकों ने अखिलेश की बैठक से दूरी बनाए रखी। आजम और उनके बेटे अब्दुल्ला ही नहीं बल्कि नसीर अहमद खान और शहजील इस्लाम जैसे MLA भी इस मीटिंग में नहीं पहुंचे। 

अखिलेश यादव की मीटिंग में शामिल होने की जगह आजम खान ने रामपुर में डेरा डाले रखा। इस वक़्त आजम अपने करीबियों और उनके परिजनों से मुलाकात कर रहे हैं। रविवार को आज़म रामपुर जेल में कैद गुड्डू मसूद से मिले तो बरेली से सपा MLA शहजील इस्लाम के साथ भी चर्चा की। इससे पहले रात में बरेली के मौलाना तौकीर रजा के साथ भी आजम खान ने बैठक की थी। इस प्रकार आजम खान जेल से छूटने के बाद एक बार से मुस्लिम राजनीति का सियासी तानाबाना बुनना शुरू कर दिया है। 

अखिलेश यादव से नाराजगी के प्रश्न पर आजम खान ने कहा कि, 'आपसे मुझे नाराजगी की सूचना मिल रही है। नाराज होने के लिए आधार चाहिए, मैं खुद ही निराधार हूं तो वो आधार कहां से आएगा, मेरा अपना ही कौन सा आधार है। किसी से खफा होने की हैसियत में नहीं हूं।' मुलाकात के लिए अखिलेश के नहीं आने के सवाल पर आजम खान ने जवाब दिया कि, 'मैं ना किसी के आने पर कोई टिप्पणी करूंगा ना किसी के ना आने पर, जो आए उनका शुक्रिया, जो नहीं आए, उनकी कोई वजह रही होगी, उनका भी शुक्रिया। उन्होंने कहा कि हमें किसी से कोई शिकायत नहीं है। हमारे लिए सपा और दूसरे दलों के नेताओं ने जो किया वह कोई कम नहीं था। 

आय से अधिक संपत्ति के मामले में पूर्व सीएम ओमप्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सुनाई जाएगी सजा

'चुनाव से पहले पात्र, चुनाव के बाद अपात्र..', राशन कार्ड को लेकर भाजपा सरकार पर बरसे वरुण गांधी

उद्धव सरकार का विरोध करना नवनीत राणा को पड़ रहा भारी, अब BMC ने थमाया नोटिस

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -