आज़म खान की मुश्किलें बढ़ीं, पोर्टल में 'भू-माफिया' के तौर पर दर्ज होगा नाम

आज़म खान की मुश्किलें बढ़ीं, पोर्टल में 'भू-माफिया' के तौर पर दर्ज होगा नाम

रामपुर: दो दर्जन से भी ज्यादा मामलों में फंसे समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता और रामपुर लोकसभा सीट से सांसद आजम खान अपने राजनीतिक जीवन के सबसे कठिन दौर से गुजर रहे हैं. पिछले कुछ समय में उनके विरुद्ध कई आपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं, किन्तु उनकी मुसीबत केवल यहीं तक सीमित नहीं हैं. 

सपा नेता के पैतृक शहर रामपुर का जिला प्रशासन अब प्रदेश की योगी सरकार के 'एंटी भू-माफिया' पोर्टल पर आजम खान को भूमि माफिया के रूप में सूचीबद्ध करने के संबंध में विचार कर रहा है. उत्तर प्रदेश में 2017 में सत्ता संभालने के तुरंत बाद ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने भू-माफिया की पहचान करने और जमीन कब्जाने से जुड़े लोगों की शिकायत दर्ज कराने के लिए इस पोर्टल की शुरुआत की थी.

पुलिस के मुताबिक, नवनिर्वाचित लोकसभा सदस्य आजम खान पर 30 से भी अधिक मामले दर्ज हैं. जिनमें सबसे अधिक मामले सरकारी जमीन और गरीबों की जमीन हथियाने के हैं. रामपुर के पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया है कि जमीन हथियाने के कई मामलों को ध्यान में रखते हुए आजम खान का नाम 'एंटी-भू माफिया' पोर्टल में सूचीबद्ध करने के संबंध में विचार विमर्श किया जा रहा है. 

कांग्रेस का बड़ा ऐलान, प्रियंका संभालेंगी पूरे यूपी की कमान

शीला दीक्षित के खिलाफ नाराज विधायकों ने खोला मोर्चा, जानिए कारण

करतारपुर कॉरिडोर : दूसरे दौर की वार्ता जारी, ये है रिपोर्ट