भारत को 'हिन्दु राष्ट्र' घोषित करने और जलसमाधि का दिन आज, छावनी में तब्दील हुई रामनगरी अयोध्या

अयोध्या: रामनगरी अयोध्या में तपस्वी छावनी के उत्तराधिकारी महंत परमहंस के जल समाधि लेने के ऐलान को देखते हुए आश्रम के बाहर बड़ी संख्या में पुलिसबल तैनात कर दिए गए हैं। जिला प्रशासन और पुलिस के उच्च अधिकारियों के निर्देश पर परमहंस को नज़रबंद (House Arrest) कर दिया गया है। बता दें कि भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करने के लिए परमहंस ने दो अक्टूबर को जल समाधि लेने का ऐलान किया था।

बता दें कि रामनगरी अयोध्या के जगद्गुरु परमहंस ने दो अक्टूबर तक देश को हिंदू राष्ट्र घोषित करने की मांग की है। अगर ऐसा नहीं होता है तो उन्होंने जल समाधि लेने की घोषणा की थी। इसी के चलते आज महंत को नज़रबंद कर दिया गया है।  वहीं परमहंस आचार्य को इस मामले में हिंदू महासभा का भी साथ मिला है। महासभा ने भी महंत का समर्थन करते हुए कहा था कि दो अक्टूबर को हिंदू महासभा के एक लाख कार्यकर्ता अयोध्या की सरयू नदी में जल समाधि लेंगे। इन सभी को रोकने के लिए मौके पर भारी पुलिसफोर्स तैनात की गई है। 

महासभा के राष्ट्रीय महासचिव देवेंद्र पांडेय ने देश के पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखते हुए कहा है कि सरकार को परमहंस आचार्य की जायज मांगों को मान लेना चाहिए। यदि वे जल समाधि लेते हैं तो इसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी। जल समाधि लेने का ऐलान करने वाले संत परमहंस आचार्य का समर्थन करते हुए हिंदू महासभा ने कहा है कि पूरे देश से करीब एक लाख कार्यकर्ता परमहंस के साथ ही सरयू नदी में आत्म आहुति देंगे। इसके लिए हजारों कार्यकर्ता अयोध्या में जुटने लगे हैं। 

आमजन पर महंगाई की मार, आज फिर बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

एयरटेल, वोडाफोन आइडिया पर टेलिकॉम डिपार्टमेंट ने लगाया 3,050 करोड़ रुपये का जुर्माना

11 पैसे की तेजी के साथ 74.12 पर बंद हुआ भारतीय रुपया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -