आस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान को 275 रनों से हराया

Mar 04 2015 05:04 PM
आस्ट्रेलिया ने अफगानिस्तान को 275 रनों से हराया
सलामी बल्लेबाज डेविड वार्नर (178) के नेतृत्व में बल्लेबाजों के रिकार्डतोड़ प्रदर्शन के दम पर आस्ट्रेलिया ने वाका मैदान पर बुधवार को खेले गए आईसीसी विश्व कप-2015 के पूल-ए मुकाबले में अफगानिस्तान को 275 रनों से हरा दिया। यह रन अंतर के लिहाज से विश्व कप में किसी भी टीम की अब तक की सबसे बड़ी जीत है। साथ ही यह एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास में रन अंतर के लिहाज से किसी टीम की दूसरी सबसे बड़ी विजय है। आस्ट्रेलिया ने पहली बार इतने रन अंतर से कोई मैच जीता है। मेजबान टीम ने अफगानिस्तान के सामने 418 रनों का लक्ष्य रखा था, जो किसी भी लिहाज से उसके लिए हासिल करने योग्य नहीं था। आस्ट्रेलिया की मजबूत आक्रमण पंक्ति के सामने हालांकि अफगान टीम 37.3 ओवरों तक संघर्ष करती रही और 142 रन बनाकर पवेलियन लौट गई। 

अफगानिस्तान के लिए नवरोज मंगल ने सबसे अधिक 33 रन बनाए जबकि नजीबुल्ला जादरान ने 24 रनों का योगदान दिया। किसी और बल्लेबाज का योगदान उल्लेख के काबिल नहीं रहा। पारी में छह चौके और तीन छक्के लगे। एक छक्का नजीबुल्ला ने लगाया जबकि दो नवरोज के बल्ले से निकले। आस्ट्रेलिया की ओर से मिशेल जानसन ने चार विकेट लिए जबकि मिशेल स्टार्क को दो सफलता मिली। जोस हैजलवुड, माइकल क्लार्क और ग्लेन मैक्सवेल ने एक-एक विकेट लिया। आस्ट्रेलिया के लिए विश्व कप में सबसे बड़ी पारी खेलने वाले वार्नर को मैन ऑफ द मैच चुना गया। विश्व कप इतिहास में इससे पहले भारत ने 2007 में बरमुडा को 257 रनों से हराकर सबसे बड़ी जीत हासिल की थी। एकदिवसीय क्रिकेट इतिहास में सबसे बड़ी जीत का रिकार्ड न्यूजीलैंड के नाम है, जिसने 2008 में आयरलैंड को 290 रनों से हराया था। 

दूसरे स्थान पर द. अफ्रीका है, जिसने 2010 में जिम्बाब्वे को 272 रनों के अंतर से पराजित किया था। इससे पहले, टॉस हारकर बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट पर 417 रन बनाए। यह विश्व कप का अब तक का सर्वोच्च योग है। इससे पहले आस्ट्रेलिया का सर्वोच्च योग छह विकेट पर 377 रन था, जो उसने 24 मार्च 2007 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बनाया था। साथ ही आस्ट्रेलिया ने विश्व कप इतिहास की किसी एक पारी में पांच विकेट पर 413 रनों के भारत के रिकार्ड को ध्वस्त किया। भारत ने 2007 विश्व कप में बरमुडा के खिलाफ यह स्कोर खड़ा किया था। आस्ट्रेलिया के लिए 133 गेंदों का सामना कर 19 चौके और पांच छक्के लगाने वाले वार्नर के अलावा स्टीवन स्मिथ ने 98 गेंदों पर आठ चौकों और एक छक्के की मदद से 95 रन बनाए। 

वार्नर ने आस्ट्रेलिया के लिए विश्व कप में सबसे बड़ी पारी खेली। वार्नर से पहले मैथ्यू हेडन ने 27 मार्च 2007 को वेस्टइंडीज के खिलाफ 158 रनों की पारी खेली थी। स्मिथ और वार्नर ने एरॉन फिंच (4) का विकेट 14 रन के कुल योग पर गिरने के बाद दूसरे विकेट के लिए 260 रन जोड़े। यह वनडे क्रिकेट में किसी भी विकेट के लिए आस्ट्रेलिया की अब तक की सबसे बड़ी साझेदारी है। इससे पहले रिकी पोंटिंग और शेन वॉटसन ने 2009 में इंग्लैंड के खिलाफ नाबाद 252 रनों की साझेदारी की थी। विश्व कप में भी आस्ट्रेलिया की ओर से सबसे बड़ी साझेदारी का रिकार्ड डेमियन मार्टिन और पोंटिंग के नाम था, जिन्होंने 2003 भारत के खिलाफ नाबाद 234 रन जोड़े थे। 

स्मिथ ने वार्नर के आउट होने के बाद ग्लेन मैक्सवेल (88) के साथ तीसरे विकेट के लिए 65 रन जोड़े। मैक्सवेल ने भी 39 गेंदों की तूफानी पारी में छह चौके और सात छक्के लगाए। जेम्स फाल्कनर (7) कुछ खास न कर सके लेकिन मैक्सवेल के साथ उनकी चौथे विकेट की साझेदारी 43 रनों की रही। मिशेल मार्श (8) पारी की अंतिम गेंद पर आउट हुए जबकि ब्रैड हेडिन नौ गेंदों पर दो चौकों की मदद से 20 रनों पर नाबाद लौटे। अफगानिस्तान के लिए दौलत जादरान और शापूर जादरान ने दो-दो विकेट लिए। नवरोज मंगल और हामिद हसन को एक-एक सफलता मिली।