औरंगाबाद और अल्पसंख्यक क्षेत्रों में ओवैसी जमा रहा पैठ

Apr 24 2015 03:27 PM
औरंगाबाद और अल्पसंख्यक क्षेत्रों में ओवैसी जमा रहा पैठ
style="text-align: justify;">मुंबई : इन दिनों असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम ने महाराष्ट्र के औरंगाबाद महानगर पालिका चुनाव में अच्छे प्रदर्शन से शिव सेना की मुश्किल खड़ी कर दी है। इस दौरान शिव सेना ओवैसी की पार्टी पर लगातार शब्दों के बाण चला रही है। हालांकि ओवैसी की पार्टी केवल अल्पसंख्यकों को ही रिझाने में सफल रही है लेकिन फिर भी जहां पर अल्पसंख्यक मतदाता काफी संख्या में मौजूद हैं। वहां शिवसेना के लिए कुछ परेशानी हो रही है। 

हाल ही में शिवसेना ने फिर से ओवैसी पर निशाना साधा। मामले को लेकर कहा गया है कि चुनावों में एमआईएम को मुस्लिमों के साथ दलितों का भी समर्थन मिल रहा है। यह अंबेडकर आंदोलन के खतरे में पड़ने की ओर संकेत कर रहा है। दूसरी ओर यह भी कहा गया कि मुस्लिम वोट बैंक धर्म के नाम पर एक हो गया। यह सामाजिक एकता के लिए ठीक नहीं है। यदि एमबआईएम के करीब 25 उम्मीदवार चुनकर नगर पालिका में आते हैं तो यह अच्छा संकेत नहीं है। हिंदूओं को चुनाव परिणामों पर ध्यान देना होगा। मुस्लिम वोटों का धु्रवीकरण अच्छी बात नहीं है।