वाहनों को ठीक करने के लिए मानी ऑडी और वॉक्सवैगन

वाहनों को ठीक करने के लिए मानी ऑडी और वॉक्सवैगन

मशहूर कार निर्माता कंपनी ऑडी और फोक्सवैगन के द्वारा आस्ट्रेलिया उत्सर्जन जांच को धोखा देने के लिए सॉफ्टवेयर का उपयोग करने की बातें सामने आई थी, जिसको लेकर अब यह कहा जा रहा है कि दोनों कंपनियां ऐसे सॉफ्टवेयर लगे वाहनों को ठीक करने के लिए राजी हो गई है. इस दौरान आज शुक्रवार को प्रदेशों और बड़ी परियोजनाओं के मंत्री पॉल फ्लेचर ने कहा है कि वे वाहनों को ठीक करने के लिए सहमत है. इस मामले में सामने आई एक रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि यहाँ सरकार और दोनों कम्पनियों के बीच हुई बातचीत के बाद यह फैसला किया गया है.

साथ ही इस बात को ध्यान में रखते हुए फ्लेचर ने यह भी कहा है कि यह एक सही कदम है और इसके तहत सरकार के द्वारा ऑडी और फोक्सवैगन आस्ट्रेलिया से यह उम्मीद है कि वाहनों को ठीक करने की इस पूरी प्रक्रिया से सरकार को अवगत रखा जायेगा. क्योकि मामले में यह बात सामने आई है कि कम्पनियों के द्वारा जितनी कारों में घोटाले के बारे में बताया गया था यहाँ उनकी संख्या इससे दोगुनी सामने आ रही है.

पिछली रिपोर्ट से यह बात सामने आई है कि ऑस्ट्रेलिया में करीब 90 हजार डीजल कारें इस स्कैंडल से प्रभावित है. फ्लेचर ने इसके साथ ही यह भी कहा है कि इन दोनों कम्पनियों को सही कारों की संख्या बता देना चाहिए और जिन ग्राहकों के पास ये कारें है उन्हें भी बताना चाहिए. क्योकि उत्सर्जन जांच को धोखा देने वाले सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल आस्ट्रेलिया के मोटर वाहन मानक कानून 1989 के तहत डिजाइन नियमों का उल्लंघन माना जाता है. साथ ही यह भी सामने आया है कि ये नियम आस्ट्रेलिया उपभोक्ता कानून के दायरे में भी आते हैं.