गांव पर डाकुओं का हमला, 40 मासूम बने गोलियों के शिकार

डाकुओं के हमले ने नाइजीरिया के कडूना राज्य के एक गांव में तबाही मचा दी है जसके बाद गांव में मातम का माहौल है. हथियारबंद डाकुओं ने 40 लोगों को गोलियों से भून डाला और भारी उत्पात मचाया. इस कोहराम की सुचना स्थानीय लोगों और अधिकारियों ने पुलिस को दी. पुलिस महानिरीक्षक इब्राहिम इद्रीस ने डाकुओं के ग्वास्का के एक गांव में हमला करने की पुष्टि की. जहां करीब 3000 लोग रहते हैं. उन्होंने बताया कि 200 पुलिसकर्मी और 10 गश्ती वाहनों को मौके पर तैनात किया गया है. डाकूओं से लड़ने में मदद करने वाले एक स्थानीय व्यक्ति ने बताया कि कम से कम 40 लोग मारे गए हैं. संख्या अभी और बढ़ सकती है. उन्होंने बताया कि हमलावर जमफारा राज्य के थे. उन्होंने बच्चों पर गोलियां चलाईं और घरों में आग लगा दी. 

अधिकारियो के अनुसार, यह हमला निकटवर्ती एक गांव में अज्ञात बंदूकधारियों के हमले के एक हफ्ते बाद हुआ है. कडूना की सरकार ने हमले की पुष्टि की है लेकिन हताहत लोगों के संबंध में कोई जानकारी नहीं दी.

राष्ट्रपति मोहम्मद बुहारी ने बिरनीन ग्वारी क्षेत्र में नाइजीरियाई सेना की स्थायी बटालियन की तैनाती को इजाजत दे दी है. सरकारी आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी प्रभावित लोगों को मदद कर रही है. गांव में फ़िलहाल भय और मातम पसरा हुआ हुई है प्रशासन अपनी तरफ से पुरजोर कोशिश कर हालत को सामान्य बनाने में जुटा है . 

गलती से अपहरण किये गए भारतीयों की मदद के लिए सुषमा से गुहार

कुवैत में अदनान सामी के स्टाफ के साथ हुई बदसुलूकी, कहा 'इंडियन डॉग्स'

पाक और बांग्लादेश से कई बेहतर भारतीय प्रवासियों की छवि- रिपोर्ट

तालिबान ने अगवा किए 6 भारतीय इंजीनियर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -