ATM पर हुजुम, छुट्टे के लिये तरसे लोग

भोपाल : नोटबंदी के बाद लोगों की परेशानी थमने का नाम नहीं ले रही है। बैंकों और एटीएम पर जहां लोगों की लंबी कतार देखी जा सकती है वहीं छुट्टे पैसे के लिये भी लोग तरसने लगे है। इधर, रविवार को बैकों का अवकाश होने के चलते एटीएम पर लोगों का हुजुम रहा। मोदी सरकार द्वारा चलन से बंद किये गये पांच सौ और एक हजार रूपये के नोटों को बदलाने के लिये लोगों की कतार बैंकों में लगी हुई है।

बावजूद, लोगों की यह शिकायत है कि उनका नंबर जब तब आता है जब कैश खत्म हो जाता है। ऐसी स्थिति में उन्हें दूसरे दिन फिर जाकर बैंक की कतार में लगना पड़ता है। इधर, रविवार को बैंकों की छुट्टी होने से नोटों के लिये मारामारी रही। सुबह से ही लोग एटीएम पर पहुंचने लगे थे लेकिन कई एटीएम या तो बंद पड़े हुये थे कहीं नोट खत्म होने से लोगों को बेरंग भी लौटना पड़ रहा था। लोगों का कहना है कि एटीएम में नोटों की कमी है और इस कारण नोट नहीं मिलने से उनके खर्चे निकलना मुश्किल हो गया है। सरकार की नोटबंदी के बाद से ही छुट्टे रूपये नहीं मिल रहे है। न तो दुकानों पर छुट्टे है और न ही लोगों के पास, यही कारण है कि फिलहाल लोग नया दो हजार रूपये का नोट लेने से दूरी बनाये हुये है।

एटीएम से पैसे मिलने में क्यों हो रही है देरी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -