अटलजी का दुखद निधन, क्या गैर-भाजपाई राज्यों में रहेगा शोक अवकाश ?

Aug 16 2018 05:42 PM
अटलजी का दुखद निधन, क्या गैर-भाजपाई राज्यों में रहेगा शोक अवकाश ?

नई दिल्ली: देश के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के शीर्ष नेता अटल बिहारी वाजपेयी की दिल्ली के एम्स अस्पताल में निधन हो गया है, 93 वर्षीय अटलजी को यूटीआई इंफेक्शन, लोवर रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट इंफेक्शन और किडनी संबंधी बीमारियां थी. एम्स के डॉक्टरों का कहना है कि अटलजी की हालात लगातार बिगड़ती जा रही थी, पिछले दो महीने से उपचार करने के बावजूद उनके स्वास्थ्य में कोई सुधार देखने को नहीं मिल रहा था.

भाजपा नेता रहते ​कांग्रेसी नेताओं के प्रशंसक रहे अटल बिहारी वाजपेयी

भाजपा के इस दिग्गज नेता के निधन से न सिर्फ भाजपाइयों में, बल्कि पुरे राजनितिक खेमे में शोक का माहौल है. वहीं देश की जनता भी अपने प्रिय नेता के विरह से दुखी है. बताया जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी अपने वरिष्ठ नेता के सम्मान में अपने कार्यालय पर लगे राष्ट्रिय ध्वज को झुकाकर अटलजी के प्रति सम्मान व्यक्त करेगी. लेकिन इस बीच एक सवाल यह उठ रहा है कि क्या देश के इस पूर्व प्रधानमंत्री के सम्मान में केंद्र सरकार एक दिन का शोक अवकाश घोषित करेगी ?

अटल बिहारी वाजपेयी : जारी होगा एक और बुलेटिन, बीजेपी नेता पार्टी मुख्यालय के लिए निकले

वहीं इस बात को लेकर भी जानकर दोराय रख रहे हैं, उनका कहना है कि भाजपा शासित राज्यों में अटलजी के सम्मान में एक दिन का शोक अवकाश रखा जा सकता है, किन्तु जहाँ तक देश के बाकी राज्यों की बात है, जहाँ की भाजपा के अलावा अन्य पार्टियों की सरकार है, वहां अवकाश मिलने में संदेह है. हालाँकि, विशेषज्ञों का ये भी कहना है कि अटलजी के विपक्षी नेताओं से भी वैसे ही मधुर सम्बन्ध थे, जैसे कि उनके अपनी पार्टियों के नेताओं से थे. अब देखना ये है कि क्या गैर भाजपाई भी इस अद्वितीय प्रधानमंत्री के सम्मान में अवकाश घोषित करेंगे या नहीं ? 

 

 

खबरें और भी:-​

बिना शादी किए ही राजकुमारी के साथ रहते थे अटल बिहारी, ऐसी थी प्रेम कहानी

अटल बिहारी वाजपेयी के वो 3 वाक्य जिन्हे सुनकर उनकी दीवानी हो गई थी जनता

बॉलीवुड की इस मशहूर अदाकारा के फैन हैं अटल बिहारी वाजपेयी