8 फीसदी से अधिक रहेगी इस वर्ष वृद्धि दर : एसोचैम

नई दिल्ली : देश की आर्थिक वृद्धि दर को लेकर अलग-अलग आकंड़े सामने आ रहे है और साथ ही इसके अलग-अलग स्तर पर रहने की बातें की जा रही है. अब हाल ही में उद्योग संगठन एसोचैम ने यह अनुमान लगाया है कि चालू वित्त वर्ष में देश की आर्थिक वृद्धि दर 8.1 से लेकर 8.2 फीसदी रहने वाली है. गौरतलब है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में सुस्ती देखने को मिल रही है लेकिन इसके बावजूद भी चालू वित्त वर्ष में देश के सकल घरेलू उत्पाद बढऩे की उम्मीद लगाई जा रही है. एसोचैम के आंकड़े भीइस तरफ इशारा कर रहे है.

इसके साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि यदि सरकार के साथ विपक्षी पार्टी कांग्रेस भी साथ आ जाती है तो GST बिल को अप्रैल 2016 तक लागु किया जा सकता है. यह भी बताया जा रहा है कि इस बिल में मुख्य कर सुधर भी शामिल होंगे. इसके साथ ही एसोचैम का यह भी कहना है कि इसके अगले वित्त वर्ष में यह दर 9 फीसदी पर पहुंच सकती है या फिर इसके पार भी हो सकती है.

एसोचैम का इसके आगे यह भी कहना है कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतें 40 डॉलर प्रति बैरल के निचे चली गई है जिसके साथ ही कई अन्य वस्तुओं की वैश्विक कीमतों मे भी गिरावट देखने को मिली है, इन सबके चलते यह नई उम्मीद देखने को मिल रही है. इसके साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि जहाँ एक तरफ सरकारी निवेश में इजाफा देखने को मिल रहा है तो वहीँ दूसरी तरफ घरेलू मांग में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. जिसके चलते यह अनुमान लगाया जा रहा है कि विकास दर 8 फीसदी के दायरे को पर करने वाली है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -