जारी रहेगी चुनावी रैलियों पर रोक, जानिए विधानसभा चुनाव वाले राज्यों में कोरोना का हाल

नई दिल्ली: भारत में अगले महीने 5 प्रदेशों में विधानसभा चुनाव होने हैं. इनमें यूपी, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा एवं मणिपुर सम्मिलित हैं. कई विशेषज्ञ कह रहे हैं कि 15 जनवरी के पश्चात् और फरवरी तक कोरोना की लहर चलेगी. इसको लेकर चुनाव आयोग भी परेशान है. चुनाव आयोग ने कोरोना के बढ़ते केसों को देखकर निर्णय लिया है कि रैलियों पर पाबंदी 22 जनवरी तक जारी रहेगी. बीते कुछ द‍िनों से चुनाव वाले दो बड़े प्रदेश यूपी एवं पंजाब में ही कोरोना बेतहाशा बढ़ा है. आइए इन दोनों प्रदेशों के अतिरिक्त अन्‍य सभी प्रदेशों में कोरोना के हालात पर एक नजर डालते हैं.

उत्तर प्रदेश:-
यूपी में विधानसभा चुनावों से पहले सक्रीय मामलों में तेजी से उछाल देखने को मिला है. प्रदेश में फिलहाल 84,440 मामले सक्रीय हैं, जिसमें से 82,412 मरीज होम आइसोलेट हैं. प्रदेश में शन‍िवार को 16,016 नए रोगियों की पुष्टि हुई. 

पंजाब:-
पंजाब में कोरोना संक्रमण जिंदगियां ले रहा है. एक ही दिन में यहां कोरोना से मौतों की संख्या 4 गुना बढ़ गया है. बीते 24 घंटे में 23 रोगियों की मौत हुई है, जबकि इससे पहले 8 मरीजों की मौत हुई थी. शनिवार को जारी एक मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक, पंंजाब में कोरोना के 6,883 नए केस रिपोर्ट किए गए हैं.

उत्तराखंड:-
उत्तराखंड में कोरोना वायरस का ग्राफ रुकने का नाम नहीं ले रहा है. शनिवार को प्रदेश में 3848 नए रोगी मिले तथा दो पॉजिटिव मरीजों की मौत हो गई. इसके साथ ही प्रदेश में कुल मरीजों का आँकड़ा तीन लाख 67 हजार से ज्यादा हो गया है. जबकि मरने वालों की संख्या 7440 पहुंच गई है.

मणिपुर:-
मणिपुर में चार प्रदेशों की तुलना में कोरोना के मामले कम हैं. हालांकि नए मामले यहां भी रफ़्तार से बढ़ने लगे हैं. प्रदेश में शुक्रवार को 116 नए केस आए हैं. स्वास्थ्य अफसरों ने कहा कि नए मामलों में 4 सुरक्षाबलों के सैनिक हैं. 

गोवा:-
गोवा में भी 14 फरवरी को ही विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होगा. मगर वहां कोरोना सकारात्मकता दर अभी से चिंताजनक स्तर से बहुत अधिक है. गोवा में जनवरी महीने के 15 दिनों में ही सक्रीय मामले 1,671 से बढ़कर 20 हजार के पार पहुंच गए हैं.

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -