असम: चाय के बागानों में भी फैला मौत का वायरस, 300 से अधिक लोग संक्रमित

गुवाहाटी:  देशभर में कोहराम मचा रहा कोरोना संक्रमण अब असम के चाय बगानों में भी पहुंच चुका है, डिब्रूगढ़ और बिश्वनाथ जिलों में 300 से अधिक लोग संक्रमित पाए गए हैं। डिब्रूगढ़ की स्वास्थ्य सेवाओं में काम करने वाले डॉ नबज्योति गोगोई ने कहा है कि, “हमें ज़ालोनी चाय एस्टेट में कई कोरोना केस मिले हैं। टेस्टिंग के पहले दिन, 39 सकारात्मक मामलों का पता चला था। दूसरे दिन 90 रिपोर्ट्स पॉजिटिव आईं और तीसरे दिन करीब 50 से अधिक केस दर्ज किए गए हैं।

उन्होंने आगे कहा कि एक विशेष परीक्षण ड्राइव के बाद करीब 60 मामले दो अन्य चाय बागानों में पाए गए हैं। चाय बागानों को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है और अधिक केस एसिम्टोमेटिक मिले हैं, उनकी स्थिति के आधार पर, उन्हें अलग या घर में क्वारंटाइन रखा गया है। डॉ गोगोई ने आगे कहा कि, "गत वर्ष हमारे जिले के कई चाय बागानों में सीरो सर्वेक्षण में पाया गया कि अधिकतर लोग पहली लहर के दौरान संक्रमित नहीं थे।" “इस वर्ष, जब राज्य में केस बढ़ रहे थे, हमने इन जगहों पर फिर से टेस्ट किए और पॉजिटिव केस मिले। यदि टेस्ट ड्राइव का आयोजन नहीं किया गया होता, तो अधिकतर मरीज, जो कि एसिमटोमेटिक हैं, उनका ध्यान इस तरफ नहीं जाता और वायरस का फैलना जारी रहता।

बिश्वनाथ जिले में भी चाय बागानों के मजदूरों के बीच कई मामलों का पता चला है और प्रशासन ने यह सुनिश्चित करने के लिए उपाय किए हैं कि वायरस अन्य इलाकों में न फैले। गुरुवार को, असम में कोरोना के 4,936 नए केस दर्ज किए गए, ये राज्य में एक दिन में आने वाला अब तक सबसे बड़ा आंकड़ा है। इसमें गुरुवार को 46 मौतें भी रिपोर्ट की गईं हैं।

कोरोना से जंग में मिलेगी मदद, संयुक्त राष्ट्र ने भारत भेजे 10,000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर

मुंबई में आज 12 बजे के बाद ही खुलेंगे यह वैक्सीनेशन सेंटर्स

राष्ट्रीय विज्ञान अकादमी के लिए चुने गए भारतीय मूल के विशेषज्ञ शंकर घोष

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -