इस राज्य में लगा पटाखे बेचने और फोड़ने पर बैन

दिवाली से पहले, असम के प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने राज्य में हरे रंग के पटाखों को छोड़कर सभी प्रकार के पटाखों को फोड़ने और बेचने पर बैन लगा दिया है। जी दरअसल नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT) के निर्देशों का अनुपालन करते हुए त्योहारी सीजन के दौरान वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए अगली अधिसूचना तक आदेश प्रभावी रहने के बारे में कहा गया है। हाल ही में पीसीबी अध्यक्ष अरूप कुमार मिश्रा ने जानकारी देते हुए कहा, 'राज्य प्रदूषण निकाय ने भी राज्य के सभी उपायुक्तों और पुलिस अधीक्षकों को निर्देश लागू करने के लिए कहा है।'

इसी के साथ मिली जानकारी के तहत पीसीबी ने राज्य पुलिस से पटाखों की सप्लाई रोकने के लिए कार्रवाई करने को भी कहा है। वहीं यहाँ अवैध पटाखों का भंडारण करने वालों को पकड़े जाने की जिम्मेदारी पुलिस और प्रशासन पर है। अब पुलिस और प्रसाशन को यह सुनिश्चित करना है कि पटाखों के इस्तेमाल को रोका जाए, क्योंकि पीसीबी केवल सलाह और निर्देश जारी करता है। वहीं राज्य में हुई दैनिक कार्रवाई की रिपोर्ट भी पीसीबी को प्रस्तुत की जानी चाहिए। हालाँकि यह कहा गया है कि दिवाली पर लोग दो घंटे के दौरान हरे पटाखे फोड़ सकते हैं। आपको बता दें कि हर साल दिवाली की रात शहर की परिवेशी वायु को खतरनाक स्तर पर ले जाती है और इसी के चलते सर्दियों में प्रदूषण का स्तर बढ़ जाता है।

इसी बात को ध्यान में रखते हुए पटाखों को फोड़ने और बेचने पर बैन लगा दिया गया है। वहीं दूसरी तरफ राजधानी दिल्ली में भी अक्टूबर की शुरुआत के साथ हवा की क्वालिटी में संभावित गिरावट को देखते हुए, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी प्रकार के पटाखों के भंडारण, बिक्री और उपयोग पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है।

हिना खान के 'बिग बॉस 15' में एंट्री होते ही अफसाना खान ने कह डाली ऐसी बात की एक्ट्रेस हो गई असहज

निक्की तंबोली ने खोली जींस की जिप और बटन, देखकर उड़े फैंस के होश

करवा चौथ का व्रत टूटने पर अपनाएं ये महाउपाय, दोष से मिलेगा छुटकारा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -